राज्य

किसानों के मुद्दों को लेकर सड़क पर उतरेगी कांग्रेस

कांग्रेस के जिला-शहर अध्यक्षों की चार दिवसीय कार्यशाला में लिया गया निर्णय

रायबरेली/लखनऊ. उत्तर प्रदेश कांग्रेस के जिला और शहर अध्यक्षों का चार दिवसीय प्रशिक्षण शिविर रायबरेली स्थिति भुएमऊ गेस्ट हाउस में 23 जनवरी को सम्पन्न हुआ। प्रशिक्षण में कांग्रेस की विचारधारा और इतिहास, राजनीतिक दर्शन, भारतीय संस्कृति और अध्यात्म पर भी गहन चर्चा हुई। साथ ही साथ संगठन को ब्लाक, न्याय पंचायत और ग्राम सभा स्तर पर भी मजबूत करने की रणनीति पर चर्चा हुई।

चार दिवसीय प्रशिक्षण शिविर में तय हुआ कि कांग्रेस जल्द ही प्रदेश व्यापी आंदोलन की घोषणा करेगी। आंदोलन की रूपरेखा में तय हुआ कि ब्लॉक स्तर पर किसानों के बीच जाकर कांग्रेस कार्यकर्ता किसान जागरण करेंगे। किसानों के मुद्दे पर ब्लॉक वार नुक्कड़ सभा, तहसीलवार कार्यक्रम के तय हुए हैं। इस अभियान में दौरान कांग्रेस कार्यकर्ता जनप्रतिनिधियों और प्रशासनिक अधिकारियों का भी घेराव करेंगे। इस किसान आंदोलन के अंतिम चरण में लखनऊ में विशाल किसान आक्रोश मार्च भी प्रस्तावित है।

इस अभियान में काँग्रेस कार्यकर्ता किसान मांग पत्र भरा कर किसानों की समस्याओं को इकठ्ठा करेंगे और किसानों के मांग पत्र को लेकर तहसील, जिला मुख्यालय और अन्य प्रशासनिक केंद्रों पर प्रदर्शन किया जाएगा। इस अभियान के तहत पूरे प्रदेश के हर इलाके के किसानों की समस्याओं को उठाने का भी निर्णय लिया गया गया है। प्रदेश में छुट्टा पशुओं की समस्या, गन्ना भुगतान, धान खरीद में बिचौलियों का आतंक, धान का दाम बढ़ाकर छत्तीसगढ़ की सरकार तरह 2500 प्रति कुंतल करने, आलू किसानों की समस्या, बुंदेलखंड में ओलावृष्टि और कर्ज वसूली के नाम पर भेजी जा रही नोटिशों, किसान आत्महत्या, पराली की समस्या, आगामी गेंहू खरीद जैसे प्रमुख मुद्दे इस अभियान के प्रमुख बिंदु होंगे।

कांग्रेस की विचारधारा और उसके आधार पर प्रशिक्षण

रायबरेली में चल रहे प्रशिक्षण शिविर में कांग्रेस पार्टी के जिलाध्यक्षों और शहर अध्यक्षों को कांग्रेस की विधारधारा और उसके ऐतिहासिक, सांस्कृतिक और आध्यात्मिक पहुलओं पर प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण में कांग्रेस के एतिहासिक योगदान पर चर्चा हुई।

प्रशिक्षण शिविर के अंतिम दिन जिलाध्यक्षों और शहर अध्यक्षों को बूथ मैनेजमेंट करने का प्रशिक्षण दिया गया। बूथ स्तर पर पार्टी को मजबूत करने की रणनीति बनी। साथ ही साथ कांग्रेस पार्टी के फ्रंटल, विभाग और सेल को भी मजबूत करने की रणनीति बनी। खास करके जिलास्तर पर महिला कांग्रेस, पिछड़ा वर्ग, युवा कांग्रेस, प्रोफेशनल कांग्रेस, विधि, एनएसयूआई, एससी-एसटी विभाग, किसान कांग्रेस को मजबूत करने की भी रूपरेखा तय की गई।

जिलास्तर पर सोशल मीडिया और डिजिटल कम्युनिकेशन पर जोर

प्रशिक्षण शिविर में जिलास्तर पर सोशल मीडिया और डिजिटल कम्युनिकेशन पर जोर दिया गया और प्रतिभगियों को इसके बेहतर इस्तेमाल का प्रशिक्षण दिया गया. हर जिले के लिए सोशल मीडिया का संगठन को ग्राम सभा स्तर पर ले जाने की रणनीति बनी.

 सोनिया गांधी और  प्रियंका गांधी ने अमेठी के भेटुआ ब्लॉक के सड़क दुर्घटना में मारे गए लोगों के परिजनों से मुलाकात कर व्यक्त कीं संवेदना

कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती सोनिया गांधी और महासचिव श्रीमती प्रियंका गांधी अमेठी के भेटुआ ब्लॉक के सड़क दुर्घटना में मारे गए लोगों के परिजनों से मुलाकात कर अपनी संवेदना प्रकट की. अमेठी के भेटुआ ब्लाक के भरेथा गांव के ग्राम प्रधान कल्पनाथ कश्यप और मोनू यादव समेत 6 लोगों की सड़क दुर्घटना में मौत हो गई थी.

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz