Friday, January 27, 2023
Homeसमाचारकिसानों का ऐलान : जैतपुर में कचरा डंपिंग के लिए जमीन नहीं...

किसानों का ऐलान : जैतपुर में कचरा डंपिंग के लिए जमीन नहीं देंगे

गोरखपुर. जैतपुर में कचरा डंपिंग के लिए भूमि अधिग्रहण का विरोध शुरू हो गया है. गुरुवार को ग्रामीणों ने किसान पंचायत और प्रदर्शन कर कचरा डंपिंग के लिए जमीं न देने का ऐलान किया.

जैतपुर में काली मंदिर के पास हुई सभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस के प्रदेश महासचिव विश्वविजय सिंह ने कहा कि गीडा में तीन वर्षो से स्वीकृत कामन ट्रीटमेंट प्लांट के लिए पैसा न जारी करके, पिपरा, भप्सा, तेनुहारी के किसानों को मुवावजा न देकर यह सरकार किसानों के प्रति अपना सौतला रवैया दिखा चुकी है. आमी नदी के बदबूदार पानी के गंध से वैसे ही जैतपुर, नंदापार, अमटोरा, बनौडा, कटका, बेलवाडाड़ी,कैली सहित बीसों गांव वैसे ही प्रभावित है जिनकी कोई ठोस व्यवस्था सरकार द्वारा नही की गई. अब कचरा स्टेशन की बात कर एक और जटिल समस्या पैदा करने की कोशिश की जा रही है.

किसान पंचायत में भाजपा के पूर्व जिला मंत्री भानुप्रताप सिंह ने कहा कि यहां  आबादी में कचरा डंपिंग स्टेशन बनाना तो दूर सोचना भी बहुत गलत है क्योंकि ऐसे डंपिंग स्टेशन के लिए आबादी से दूर व्यवस्था करनी चाहिए. यहां वैसे ही गीडा के फैक्टरियों के प्रदूषण से लोग त्रस्त है. सांस की बीमारी के जद में बहुत लोग आ गए है. इसलिए अब कोई और समस्या क्षेत्र के लोग कतई बर्दाश्त नही करेंगे.

जैतपुर के प्रधान पति उपेंद्र कुमार ने कहा कि किसी कीमत पर जैतपुर के किसान भूमि नही देंगे. इसके लिए हम हर संघर्ष के लिए तैयार है. शासन हमारे भविष्य को खतरे में नही डाल सकता.

किसान पंचायत में महेंद्र मोहन तिवारी, सरफुद्दीन, रामचन्द्र शर्मा, शारजहां, बिंदु देवी, राजकुमार, रमेश, प्रेम, विनोद , गौकरन, सुभाष,विजय, रूपेश, सुनील सहित सैकड़ों लोग शामिल रहे.

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments