Thursday, December 8, 2022
Homeसाहित्य - संस्कृतिदेवेन्द्र कुमार स्मृति कविता सम्मान- 2022 के लिए संस्तुतियां आमंत्रित, जुलाई में...

देवेन्द्र कुमार स्मृति कविता सम्मान- 2022 के लिए संस्तुतियां आमंत्रित, जुलाई में होगी घोषणा

गोरखपुर। प्रेमचंद साहित्य संस्थान द्वारा शुरू किये गए देवेन्द्र कुमार स्मृति कविता सम्मान-2022 के लिए संस्तुतियाँ आमंत्रित की गई हैं। यह सम्मान प्रति वर्ष गोरखपुर सम्भाग यानी पुराने गोरखपुर मंडल के ऐसे कवियों को दिया जाता है जिन्होंने यहां जन्म लिया हो या कम से कम पांच वर्ष निवास किया हो या यह उनका कार्य क्षेत्र रहा हो तथा किन्हीं वजहों से उनके कविकर्म को सम्यक, समुचित पहचान न मिली हो। सम्मान की घोषणा जुलाई में की जायेगी।

प्रथम देवेन्द्र कुमार स्मृति कविता सम्मान-2021 कवि लेखक एवं पत्रकार के सुभाष राय को दिया गया था।

प्रेमचंद साहित्य संस्थान, गोरखपुर के निदेशक बीएचयू हिन्दी विभाग में प्रोफेसर सदानन्द शाही ने बताया कि इस सम्मान को शुरू करने के पीछे संस्थान का मंतव्य यह है कि हिन्दी साहित्य को देवेन्द्र कुमार बंगाली के अवदान पर गंभीरता से चर्चा हो सके। बंगाली जी की रचनाओं का जो तेवर है, उनकी जो ताकत है, जो सामर्थ्य है, उसके अनुसार देवेन्द्र जी का मूल्यांकन नहीं हुआ। वे स्वयं आत्मप्रचार से बहुत दूर रहते थे, अपने बारे में कुछ भी कहना उन्हें पसंद नहीं था। छपने- छपाने को लेकर भी वे बहुत चिंतित नहीं रहते थे। अपने बारे में उनकी चुप्पी का तो मतलब हो सकता था लेकिन उस समय की आलोचना ने भी उन पर चुप्पी बनाये रखी। वे झुकना, याचना करना या अनावश्यक प्रशंसा करना भी नहीं जानते थे। वे अंदर से बहुत कोमल होते हुए भी बाहर से बहुत रूखे, कठोर दिखते थे, इस नाते उनको समझने में लोगों ने गलतियां कीं। कुछ कवि, लेखक, साहित्यकार जो उन्हें गहराई से जानते थे, उन्होंने बंगाली जी की चिंता जरूर की लेकिन इसके बावजूद वे जहां रहे, किनारे ही रहे।

श्री शाही ने बताया कि हमारा उद्देश्य है कि इस पुरस्कार के बहाने देवेन्द्र कुमार बंगाली जैसे बड़े कवि का समुचित मूल्यांकन हो, उनकी रचनाओं की सामाजिकता, उनकी राजनीति को ठीक से समझा जा सके और उन्हें नेपथ्य से मंच पर लाया जा सके। पिछले वर्ष यह सम्मान शुरू किया गया और प्रथम‌ देवेन्द्र कुमार स्मृति कविता सम्मान सुभाष राय को दिया गया।

उन्होंने बताया कि सम्मान हेतु कवि के चयन के लिए तीन सदस्यीय चयन समिति गठित कर ली गयी है। सम्मान में 11 हजार की  धनराशि तथा मान पत्र दिया जाएगा।

उन्होंने कहा कि सम्मान के लिए महत्वपूर्ण कवियों, लेखकों, समीक्षकों तथा पाठकों से संस्तुतियाँ आमंत्रित की जा रही हैं। सम्मान  कवि के समग्र काव्य लेखन  की गुणवत्ता के आधार पर दिया जाना है। पुरस्कार के लिये कवि की अप्रकाशित पाण्डुलिपि पर भी विचार किया जा सकता है। सम्मान कवि की मौलिक कृति पर प्रदान किया जायेगा। इस सम्मान के लिए अनुवाद कार्य पर विचार नहीं किया जायेगा। इस सम्मान के लिए ईमेल[email protected] पर नाम प्रस्तावित किया जा सकता है। नाम प्रस्तावित करते समय कवि का संक्षिप्त परिचय, उनका गोरखपुर विभाग से संबंध और प्रस्तावित कवि की कविताओं के बारे में संक्षिप्त टिप्पणी जरूर दें। मोबाइल नम्बर 9616393771 पर भी संपर्क कर सकते हैं।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments