जीएनएल स्पेशल

मार्ग दुर्घटना में मरे मजदूरों के परिजनों को दो महीने बाद भी नहीं मिली सरकार की सहायता धनराशि

10 मई को कसरवल में ट्रेलर पलटने से मजदूर राहुल की मौत हो गई थी

गोरखपुर/महराजगंज। दो महीने पहले गोरखपुर जिले के कसरवल में ट्रेलर  पलटने से मरे दो प्रवासी मजदूरों के परिजनों और घायल हुए हुए सात मजदूरों को अभी तक सरकार द्वारा घोषित आर्थिक सहायता नहीं मिली है।

दस मई की रात को कसरवल में बालू लदा एक ट्रेलर पलट गया था। इस पर नौ प्रवासी मजदूर सवार थे। इस दुर्घटना में दो प्रवासी मजदूरों 25 वर्षीय राहुल साहनी और 40 वर्षीय परशुराम की मौत हो गयी थी जबकि सात मजदूर- मुन्ना साहनी, भोला साहनी, रमेश, धीरज भारती, विद्यासागर, राजेश, संजय घायल हो गए थे। राहुल साहनी महराजगंज जिले के कोठीभार थाना क्षेत्र के बरियारपुर के और परशुराम इसी जिले के चैक थाना क्षेत्र के कसम्हरिया गांव के निवासी थे।

ये सभी मजदूर हैदराबाद के चांदनगर इलाके में मजदूरी करते थे और लाॅकडाउन के बाद घर वापस आ रहे थे। ये मजदूर 27 हजार रूपया देकर एक ट्रक से हैदराबाद से कानपुर आए थे। वहां से वे दस मई की रात दस बजे गोरखपुर जा रहे बालू लदे टेलर में सवार हुए थे।
दुर्घटना में घायल मुन्ना, भोला, रमेश व विद्यासागर एक ही गांव बरियारपुर के हैं। दुर्घटना में मारा गया राहुल भी उन्हीं के गांव का था.

सभी घायलों को सहजनवा के एक अस्पताल में ले जाया गया था. वहां से उन्हें फिर दूसरे अस्पताल में भर्ती किया गया था।

सरकार की ओर से दुर्घटना में मृत मजदूरों को दो-दो लाख रुपए और गंभीर रूप से घायल मजदूरों को 50-50 हजार रुपए की आर्थिक सहायता देने की घोषणा की गयी थी लेकिन दो महीने बाद भी आर्थिक सहायता मजदूरों को नहीं मिली है।

राहुल के पिता किशोर सहानी  ने बताया कि एक सप्ताह पहले लेखपाल आकर उनसे सभी जरूरी जानकारी लेकर गए थे। इसके बाद इस मामले में क्या हुआ उन्हें कुछ नहीं मालूम। किशोर के तीन बेटों में राहुल सबसे छोटा था। बड़े भाई अपने परिवार के साथ अलग रहते हैं। राहुल मंझले भाई गोरख और माता-पिता साथ रहता था।

इस घटना में घायल हुए मुन्ना ने बताया कि उसे भी अभी तक सरकार द्वारा घोषित सहायता राशि नहीं मिली है। भोला, रमेश व विद्यासागर को भी सहायता राशि नहीं मिली है।

इस सम्बन्ध में निचलौल के एसडीएम अभय कुमार गुप्ता ने कहा कि शासन से अभी तक धन नहीं आया है। चूंकि दुर्घटना गोरखपुर में हुई थी, इसलिए सभी कार्यवाही वहीं से हुई है। वह कोशिश करेंगे कि सहायता राशि जल्द से जल्द मिल जाए।

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz