समाचार

कोरोना मौतों का विश्लेषण करेगा स्वास्थ्य विभाग, सीएमओ ने 19 बिंदुओं पर मांगी जानकारी

गोरखपुर। गोरखपुर जिले में कोरोना के कारण जान गंवाने वाले एक-एक व्यक्ति के मृत्यु का विश्लेषण होगा। मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. श्रीकांत तिवारी ने 19 अलग-अलग बिंदुओं से संबंधित पत्र जनपद के सभी अधीक्षकों और प्रभारी चिकित्साधिकारियों को जारी किया है। इन बिंदुओं के आधार पर ही मृत्यु का विश्लेषण होगा। यह सर्वे कोरोना के कारण गोरखपुर जनपद में होने वाली मौतों का ट्रेंड बताने में भी मददगार होगा।

मुख्य चिकित्साधिकारी ने पत्र की पुष्टि करते हुए बताया कि जिले में कोरोना से जो भी मौते हो रही हैं, उन लोगों में पूर्व की किसी गंभीर बीमारी की केस हिस्ट्री सामने आई है। प्रत्येक मौत के मामले में सूचनादाता का विवरण, मरीज का विवरण, मृत्यु विवरण, प्रथम लक्षण विवरण, लक्षण और मृत्यु के समय के अंतर, स्वास्थ्य विभाग को लक्षण के बारे में दी गयी जानकारी का विवरण, सरकारी अस्पताल से पहले हुए इलाज का विवरण, सूचना प्राप्ति के बाद स्वास्थ्य विभाग की कार्यवाही का विवरण और डायग्नोसिस समेत 19 बिंदुओं पर सर्वे होगा।

उन्होंने कहा कि इस सर्वे का यह भी फायदा होगा कि समुदाय को बीमारी से होने वाली मौत के कारणों के बारे में भी संवेदीकृत किया जा सकेगा। लोगों के भीतर से कोरोना का भय खत्म करवाया जाएगा।

मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया कि पत्र के साथ 37 कोरोना मृतकों की सूची भेजी गयी है। बाकी मौतों से संबंधित जानकारी भी समय-समय पर साझा कर यह विश्लेषण करवाया जाएगा। उन्होंने बताया कि जिन 37 मृतकों की सूची साझा की गयी है, वह सभी ह्रदय रोग, किडनी, ब्रेन ट्यूमर, ब्लड प्रेशर, मधुमेह, क्रानिक रेनल डिजीज में से किसी न किसी एक या एक से अधिक बीमारी से पीड़ित थे। इस विश्लेषण से अब यह भी सामने आ सकेगा कि मौत के कारण में सिर्फ पूर्व की बीमारी या कोरोना के इलाज में लेटलतीफी जिम्मेदार थी। उन्होंने मृतकों के परिजनों से अपील की है कि वह इस विश्लेषण में सही जानकारी देकर पूरा सहयोग करें ताकि जनपद में कोरोना का मृत्यु दर कम रखा जा सके।

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz