Monday, December 5, 2022
Homeसमाचारशिक्षक और कर्मचारी संगठनों ने पुरानी पेंशन बहाली का संकल्प लेने पर...

शिक्षक और कर्मचारी संगठनों ने पुरानी पेंशन बहाली का संकल्प लेने पर अखिलेश यादव को धन्यवाद कहा

लखनऊ। उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ, उत्तर प्रदेश शिक्षक महासंघ और कर्मचारी, शिक्षक, अधिकारी एवं पेंशनर्स अधिकार मंच ने पुरानी पेंशन बहाली का संकल्प लेने और इसे अपने चुनावी घोषणा पत्र में शामिल करने पर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के प्रति आभार जताया है।

आज जारी एक बयान में उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ, उत्तर प्रदेश शिक्षक महासंघ और कर्मचारी, शिक्षक, अधिकारी एवं पेंशनर्स अधिकार मंच के अध्यक्ष डॉ दिनेश चंद्र शर्मा ने कहा कि प्रदेश के लाखों कर्मचारी एवम शिक्षक पुरानी पेंशन बहाली हेतु पिछले कई वर्षों से संघर्षरत हैं। वर्तमान सरकार के कार्यकाल में वर्ष 2018 में उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रांतीय अध्यक्ष डॉ दिनेश चंद्र शर्मा के नेतृत्व में प्रदेश के सभी शिक्षक व कर्मचारी संगठनों द्वारा मिलकर “पुरानी पेंशन बहाली मंच” का गठन किया गया। मंच के बैनर तले प्रदेश के लाखों कर्मचारी एवम शिक्षकों द्वारा पुरानी पेंशन बहाली हेतु अनेक आंदोलन चलाए गए तथा 6 फरवरी, 2019 से 7 फरवरी, 2019 तक मंच के बैनर तले प्रदेश के लाखों कर्मचारियों एवं शिक्षकों द्वारा हड़ताल की गई, जिसे उच्च न्यायालय द्वारा रोक दिया गया।

 

बयान में कहा गया है कि इस आंदोलन को देखते हुए उत्तर प्रदेश की वर्तमान सरकार के मुख्य सचिव ने आठ आईएएस अधिकारियों के साथ एक समिति गठित की, जिसमें मंच के अध्यक्ष डॉ दिनेश चंद्र शर्मा को शामिल किया गया, परंतु सरकार के दबाव में कोई निर्णय नहीं हो सका। जब उक्त आंदोलन के बाद भी सरकार द्वारा इस पर कोई ध्यान नहीं दिया गया तो उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रांतीय अध्यक्ष डॉ दिनेश चंद्र शर्मा के नेतृत्व में पुनः कर्मचारी, शिक्षक, अधिकारी एवम पेंशनर्स अधिकार मंच(उ0प्र0)का गठन किया गया। मंच के बैनर तले 14 सितंबर, 2021 को विकास खंडों पर धरना प्रदर्शन, 5 अक्टूबर, 2021 को प्रदेश के समस्त जनपदों में मोटरसाइकिल रैली कर ज्ञापन दिया गया। इसके बाद 28 अक्टूबर 2021 को प्रदेश के सभी जनपदों में जिलाधिकारी कार्यालय पर एक दिवसीय धरना दिया गया। इसके बाद 30 नवंबर 2021 को इको गार्डन लखनऊ में प्रदेश के कई लाख कर्मचारी एवम शिक्षकों द्वारा महारैली की गई, परंतु इसके बाद भी वर्तमान सरकार द्वारा इस पर कोई ध्यान नहीं दिया गया।

डॉ शर्मा ने कहा कि सरकार के उदासीन रवैए को देखते हुए उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के पदाधिकारियों के साथ उन्होंने 3 जनवरी को समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से भेंट की और उनसे प्रदेश के शिक्षकों एवम कर्मचारियों को पुरानी पेंशन बहाल करने का मुद्दा चुनावी घोषणा पत्र में शामिल करने हेतु अनुरोध किया। संगठन के अनुरोध पर अखिलेश यादव ने पुरानी पेंशन बहाली का मुद्दा अपने चुनावी घोषणा पत्र में सम्मलित किया है तथा उनकी सरकार बनने पर उसे अमल में लाने का संकल्प लिया है।

आज समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय अखिलेश यादव द्वारा अपने प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस बात की घोषणा की कि उनकी सरकार बनने पर प्रदेश के शिक्षकों एवं कर्मचारियों को पुरानी पेंशन बहाल की जाएगी। इसके लिए उत्तर प्रदेश शिक्षक महासंघ उनका आभार व्यक्त करता है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments