जनपद

अन्न उत्पादन के साथ बागवानी, सब्जी व मसाले की खेती तथा पशुपालन से बढ़ेगी किसानों की आय

एकीकृत बागवानी विकास निगम के तत्वावधान में राज्य स्तरीय किसान गोष्ठी, प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन

देवरिया, 28 सितम्बर. एकीकृत बागवानी विकास निगम के तत्वावधान में एन एच आर डी यफ,उसरा बाजार द्वारा आयोजित दो दिवसीय राज्य स्तरीय किसान गोष्ठी, प्रशिक्षण कार्यक्रम में मुख्य विकास अधिकारी राजेश त्यागी ने कहा कि किसानों का आय दोगुना करने के संकल्प की पूर्ति हेतु किसानों को अन्न उत्पादन के साथ -साथ बागवानी, सब्जी व मसाले की खेती भी करनी चाहिए. पशुपालन भी इसमें मददगार होगा।
उन्होंने कहा कि जो भी एजेंसिया इस काम मे सहयोग कर रही हैं, उन्हें स्थानीय भाषा में किसानों को जानकारी दिलाने का प्रयत्न करना हितकर होगा।

फर्मार ट्रेनिंग
एन एच आर डी एफ के उप निदेशक बीज डॉ एस के सिंह ने उत्तम किस्म के बीजों की भूमिका पर प्रकाश डालते हुए संस्था द्वारा विकसित व सरकार द्वारा अनुमोदित प्याज लहसुन आदि के बीजों के सम्बंध में जानकारी दी।

उपनिदेशक कृषि डॉ ए के मिश्रा ने किसानों से सरकार द्वारा उपलब्ध योजनाओ,सब्सिडी,का लाभ उठाते हुए खेती में तकनीक का इस्तेमाल करने की अपील की. उन्होंने मिश्रित खेती पर भी बल दिया गया।
कृषि वैज्ञानिक डॉ यशवंत सिंह ने कृषि में जहर के अंधाधुंध उपयोग पर चिंता प्रकट करते हुए, जीव जगत के लिए ही नुकसानदेह बताया. उन्होंने जैविक कृषि, गोबर, घूर , गौ मूत्र आदि का उपयोग कर विष मुक्त खेती पर बल दिया।
उप निदेशक डॉ रजनीश मिश्रा ने किसानों को प्याज,लहसुन की खेती कर अपनी आय में बृद्धि का आह्वान किया, संस्था द्वारा उन्नत बीज,तकनीकी आदि उपलब्ध कराया जा रहा है।
उन्होंने दो दिनों तक चलने वाले इस कार्यक्रम में विभिन्न जिलों से आये किसानों तथा अतिथियो का स्वागत करते हुए विभिन्न विषयों के विशेषज्ञों से जानकारी प्राप्त कर उसे अपना कर उन्नत कृषि अपनाने की अपील की.