जनपद

 आधा दर्जन विभागों व स्कूलों पर नहीं मनायी गयी गांधी व शास्त्री जयंती

निचलौल (महराजगंज), 2 अक्तूबर। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी व देश के दूसरे प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती का राष्ट्रीय पर्व मनाना भी हाकिमों ने मुनासिब नही समझा।एक दो नहीं आधा दर्जन विभागों परिषदीय विद्यालयों , निजी विद्यालयों में शासन के आदेश के बाद भी गांधी व शास्त्री जयंती नहीं मनाई गयी।

c4d703e0-4a76-47f7-b32c-b694afe34144-1
बता दें कि 2 अक्टूबर को भारत नही विश्वभर में सत्य व अहिंसा के पुजारी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती मनाई जाती है। इसी दिन देश के दूसरे प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की भी जयंती होने पर इसे राष्ट्रीय पर्व के रूप में मनाया जाता है लेकिन निचलौल तहसील क्षेत्र के हाकिमों को बापू व शास्त्री की जयंती सायद याद ही नही रही तभी तो ज्यादात्तर हाकिमों ने छुट्टी के दिन आफिस को खोलने और ध्वजा रोहण करने की जहमत नही उठाई। ब्लाक संसाधन केन्द्र निचलौल, कृषि उत्पादन मण्डी समिति गडौरा निचलौल, कस्टम कार्यालय निचलौल, विद्युत उपकेन्द्र निचलौल व साधन सहकारी समिति टिकुलहियां व क्रय विक्रय केन्द्र सहित अन्य विभागों के कार्यालयों पर ध्वजारोहण नही हुआ।यही नही परिषदीय व प्राईवेट शिक्षण संस्थायें भी गांधी व शास्त्री जयंती मनाने में रूचि नही ली।
इस सबंध में जब खण्ड शिक्षा अधिकारी सीपी गौड से बात की गयी तो उन्होने कहा कि विद्यालयों को मनाने के लिये कहा गया था अगर नही मनाया है तो उन पर कार्यवाही की जायेगी लेकिन बीआरसी पर भी न मनाये जाने के सवाल पर वह चुप्पी साध गए।

Add Comment

Click here to post a comment