समाचार

कर्ज में डूबे सराफा व्यापारी ने गोरखनाथ मंदिर के गेट पर आत्मदाह की कोशिश की

मुख्यमंत्री से मिल अपनी व्यथा कहना चाहता था
नहीं मिल पाने पर निराशा में आत्मदाह की कोशिश की
पुलिस ने हिरासत में लिया, बलिया का रहने वाला है सराफा व्यापारी राजकुमार भारती

गोरखपुर, 27 मार्च। कर्ज में डूबे सराफा व्यापारी राजकुमार भारती ने 26 मार्च की दोपहर गोरखनाथ मंदिर गेट पर आत्मदाह की कोशिश की। वह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से अपनी व्यथा कहना चाहता था लेकिन उनसे न मिल पाने से निराशा में उसने आत्मदाह की कोशिश की। अपने उपर किरासन आयल उड़ेलते व माचिस की तिली जलाते समय कुछ होमगार्डों ने उसे देख लिया और उसकी आत्मदाह की कोशिश नाकाम कर दी।
यह सराफा व्यापारी बलिया जिले के इंदारा का रहने वाला है। उसके उपर बैंक का ढाई लाख का कर्ज है। उसके अनुसार बीमारी के इलाज में यह कर्ज हुआ। बैंक के अधिकारी कर्ज चुकाने के लिए दबाव बना रहे थे। इससे वह परेशान था। जब उसे पता चला कि मुख्यममंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखपुर आ रहे हैं तो वह उनसे मिलने के लिए रविवार की सुबह ही गोरखपुर पहुंच गया। सुबह दस बजे वह गोरखनाथ मंदिर के गेट से अंदर जाने की कोशिश की तो पुलिस कर्मियों ने उसे रोक लिया। उसने सीएम से मिलने की बात कही लेकिन सुरक्षाकर्मियों ने उसे अंदर जाने नहीं दिया।
कुछ देर बाद राजकुमार ने एक बोतल में लाए किरासन तेल को उपने उपर उड़ेल दिया और माचिस की तिली जलाने लगा। यह करते होमगार्ड जवानों ने उसे देख लिया और उसके हाथ से माचिस छीन ली। इस घटना के बाद पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया।

Add Comment

Click here to post a comment