समाचार

गोरखपुर सदर सांसद को सिर्फ एक गनर, सपा-बसपा के बागी विधायकों को वाई श्रेणी की सुरक्षा

गोरखपुर। गोरखपुर सदर सांसद प्रवीण कुमार निषाद की सुरक्षा एक गनर के भरोसे है, वहीं सपा-बसपा के बागी विधायकों पर योगी सरकार ने मेहरबानी करते हुए वाई श्रेणी की सुरक्षा दी है।

गोरखपुर के सांसद प्रवीण निषाद और निषाद पार्टी के मीडिया प्रभारी निक्की निषाद ने इस पर सवाल उठाते हुए कहा कि सदर सांसद प्रवीण कुमार निषाद की सुरक्षा व्यवस्था बेहद खराब है। मात्र एक सरकारी गनर मिला है। सरकार सदर सांसद के साथ यह सौतेला व्यवहार क्यों कर रही है समझ से परे है। सांसद प्रवीण निषाद एक गनर की सुरक्षा में रोज मतदाताओं का आभर व्यक्त करने गांव व शहर के क्षेत्रों में निकलते है। सदर सांसद के साथ कुछ भी अनहोनी घटना होती है तो उसकी जिम्मेदारी राज्य सरकार ओर पुलिस महकमे की होगी।

उप्र के राज्य सभा चुनावों में कई विधायकों ने अपनी पार्टी से बगावत करते हुए विपक्षी दल के प्रत्याशी को वोट किया था। इस सूची में सपा-बसपा सहित लोकदल और भासपा के विधायक का नाम शामिल है।  यूपी में हुए राज्यसभा चुनावों में 9वीं सीट पर बीजेपी उम्मीदवार को समर्थन देने वाले विधायकों पर उत्तर प्रदेश की योगी सरकार मेहरबान नजर आ रही है। अपनी पार्टी से बगावत करने वाले विधायकों को अब बीजेपी सरकार की तरफ से विशेष वाई श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की गई है। इसमें सपा छोड़कर बीजेपी में शामिल होने वाले नरेश अग्रवाल के बेटे और सपा के बागी विधायक नितिन अग्रवाल भी शामिल हैं। इसके अलावा बसपा के बागी विधायक अनिल सिंह को भी वाई श्रेणी सुरक्षा दी गयी है साथ ही मल्लांवा से भाजपा विधायक आशू सिंह को वाई श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की गई है।

Add Comment

Click here to post a comment