जितेन्द्र सैनी गोरखपुर नगर निगम के उपसभापति चुने गए, 32572 लाख का पुनरीक्षित बजट पास

गोरखपुर , 25 जनवरी. नगर निगम कार्यकारिणी समिति की आज हुई पहली बैठक में प्रथम बैठक में भाजपा पार्षद जितेन्द्र प्रसाद सैनी उपसभापति चुने गये.

कार्यकारिणी में 11 सदस्य हैं जिसमें भारतीय जनता पार्टी के 7 और अन्य दलों के 4 सदस्य हैं. कार्यकारिणी के सभी 7 भाजपा सदस्यों ने भाजपा पार्षद जितेन्द्र प्रसाद सैनी को उपसभापति चुने जाने का प्रस्ताव किया. बैठक में चार सदस्यों ने चुनाव कराने की मांग की गयी. महापौर एवं कार्यकारिणी  के अध्यक्ष सीताराम जायसवाल निर्णय दिया कि 7 सदस्यों के बहुमत के आधार पर श्री जितेन्द्र प्रसाद सैनी को उपसभापति चुना जाता है। चुनाव की कोई आवश्यकता नहीं है.

बैठक में पुनरीक्षित आय-व्ययक अनुमान वित्तीय वर्ष 2017-18 जिसमें प्राप्तियों का अनुमान रू0 27500 लाख तथा व्यय अनुमान रू0 32572 लाख  पर चर्चा की गयी. इसमें आंशिक संशोधन नगर निगम पूर्व के क्रय किये गये वाहनों का बीमा कराने के मद में, पर्यावरण एवं वृक्षारोपण प्रदर्शर्नी एवं खेल-कूद, मनोरंजन आदि मद में बजट का प्राविधान करते हुए सर्वसम्मति से बजट पारित कर दिया गया।

nagar nigam

बैठक में नगर निगम की वित्तीय स्थिति को ध्यान में रखते हुए नगर निगम के प्रत्येक वार्डो में विकास कार्य कराने हेतु 25 लाख का पार्षद वरीयता के आधार पर कार्य कराने हेतु सम्बन्धित पार्षद से प्रस्ताव लेने पर निर्णय लिया गया। महापौर द्वारा नगर निगम की आय में वृद्धि एवं बकाया करों की प्रभावी वसूली को ध्यान में रखते हुए महानगर के भवन स्वामियों को गृहकर, जलकर एवं सीवर कर के बकाया धनराशि को एक मुशत जमा करने पर ब्याज में 50 प्रतिशत की छूट 28 फरवरी 2018 तक प्रदान करने हेतु निर्णय लिया गया यह भी निर्णय लिया गया कि प्रत्येक वार्डो में कैम्प लगाकर गृहकर, जलकर एवं सीवरकर की वसूली के साथ ही कर निर्धारण एवं करारोपण की भी कार्यवाही सुनिश्चित किया जाए।

महानगर में एलईडी लगाने वाली फर्म से कहा गया कि उसका कार्य बहुत धीमा है और उसके एलईडी बहुत जल्द ख़राब भी हो जा रहे हैं.  सम्बन्धित फर्म को सचेत किया जाए कि दो माह के अन्दर प्रत्येक दशा में महानगर के सभी पथ प्रकाश बिन्दु पर एल0ई0डी0 लाइट लगा दें तथा नगर निगम के सम्बन्धित अधिकारी उनके कार्यो पर नजर रखें तथा जहाॅ भी काम कराया जाए पूर्व में सम्बन्धित वार्ड के पार्षद को सूचना भी दी जाए। बैठक में इण्डिया मार्क हैण्डपम्प का मरम्मत व रिबोर कार्य जल निगम के बजाय जलकल विभाग सेकराने का निर्णय लिया गया.

बैठक में कैन्ट चौराहे के पास नगर निगम की भूमि एवं नाले की भूमि पर अतिक्रमण को हटाने का प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित किया गया। यह भी निर्णय लिया गया कि नालों की सफाई हेतु मुख्य नगर स्वास्थ्य अधिकारी कार्य योजना बनाकर टेल-एण्ड से नाला सफाई शुरू कराकर हेड-एण्ड तक सफाई कराया जाए जिस नालें की सफाई हो उसे पूरी तरह से साफ किया जाए तभी दूसरे नाले पर सफाई कार्य लगाया जाए।

Leave a Comment

Skip to toolbar