समाचार

डीएम के सामने उनके ड्राइवर ,गनर ने फौजी को पीटा

लांस नायक कृष्ण मुरारी यादव
सायरन की आवाज सुनते पर भी मोटरसायकिल किनारे नही करनक बना गुनाह कोतवाली में 200 रुपया जुर्माना देने के बाद छूटा 
कुशीनगर, 28 अक्टूबर । पडरौना के सुबाष चौक पर त्यौहार की भीड़ के चक्कर में गुरुवार की दोपहर जो हुआ उसके बारे में कोई सोचा नही था ।  देश के जिन जवानों को आज सर्जिकल स्ट्राइक के बाद सम्मान की नजर से देखा जा रहा है, उसी में से एक को आज भीड़ के बीच ओवरटेक के चक्कर में जिलाधिकारी के ड्राइवर और गनर ने पीट दिया । जवान का दोष सिर्फ इतना था कि वह जिलाधिकारी के सरकारी वाहन के सायरन की आवाज सुनते ही अपनी मोटरसायकिल किनारे नही खड़ी कर पाया । मोटरसाइकिल डीएम की गाड़ी से कुछ ही आगे गयी थी कि ड्राइवर ने उसे ओवरटेक कर रोक लिया और उतर कर गनर के साथ मिलकर धुनाई शुरु कर दी । बात की गंभीरता तब और बढ़ गयी जब ये पता चला कि घटना के समय डीएम शम्भू कुमार खुद अपने सरकारी वाहन में मौजूद थे ।
सरकारी बस स्टैण्ड के सामने 12.15 के आसपास हुए इस घटनाक्रम को देखने के लिए भीड़ जुट गयी थी । पिटाई के बीच ही फौजी ने अपनी मोटरसायकिल तुरंत किनारे ना लगा पाने की वजह के साथ साथ अपना परिचय भी बताया लेकिन बात डीएम की प्रतिष्ठा से जुड़ी थी इस कारण उक्त फौजी को कोतवाली भेज दिया गया जहां उसे 200 रुपए चलन जमा करने के बाद छोड़ा गया।
 कुबेरस्थान थाना क्षेत्र के शिवराजपुर गाँव का रहने वाले लांस नायक कृष्ण मुरारी यादव ने बताया कि आज ही पाँच दिन की छुट्टी पर भोपाल से आया है और अपने गाँव जा रहा था । उसने बताया कि भीड़ के चक्कर में मैं अपनी मोटरसायकिल किनारे नही कर पाया । मैं ये जान भी नही पाया कि ये डीएम साहब की गाड़ी है । जैसे ही मुझे पता चला मैंने उन्हें सैल्यूट भी किया लेकिन उसके बाद भी मुझे कोतवाली भेज दिया गया ।उसने बताया कि वो भोपाल में 21वीं फोर्स सिग्नल रेजिमेंट में लांस नायक के पद पर तैनात है ।

Add Comment

Click here to post a comment