साक्षात्कार

तालीमी,समाजी और सियासी मोर्चे पर सबसे पिछड़ा हुआ है मुस्लिम समाज – प्रो0 अनवारुल हक़ खां

अलीगढ़ मुस्लिम विश्विद्यालय छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष एवं कलकत्ता यूनानी मेडिकल कॉलेज के प्रोफेसर अनवारुल हक़ खां से खास बातचीत 

सगीर ए खाकसार 

सिदार्थनगर, 24 अक्टूबर। अलीगढ़ मुस्लिम विश्विद्यालय छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष प्रो0 अनवारुल हक़ खां का कहना है कि तालीम के जरिये ही देश और समाज का विकास संभव है। हमें यह याद रखना होगा क़ि जिस कौम के पास तालीम नहीं होगी वह कौम सामाजिक, आर्थिक और राजनैतिक स्तर पर पिछड़ेपन का शिकार हो जायेगी। जो कौम तालीम से दूरी अख्तियार करेगी वो खुद को ग़ुलामी की तरफ ले जाएगी। गरीबी ,ग़ुरबत , अँधेरे और जरायम की तरफ की तरफ बढ़ेगी। इसलिए देश के विकास के लिए ज़रूरी है कि हम शिक्षा की तरफ रुजू हों।।

अपने गांव सिद्धार्थनगर के सेंसरी गाँव में आए श्री हक ने खास बातचीत में कहा कि मुस्लिम समाज तालीमी,समाजी और सियासी मोर्चे पर सब से पिछड़ा हुआ है। सरकारी नौकरियों में न के बराबर है। सेना और मीडिया में भी कोई स्थान नहीं है।सर सयैद अहमद खान ने शिक्षा की अलख जगाई थी।अलीगढ मुस्लिम विश्वविद्यालय ने अनेकों विद्वानो को जन्म दिया है। पूर्व राष्ट्रपति डॉ जाकिर हुसैन, भाजपा के पूर्व नेता व् दिल्ली के मुख्यमंत्री स्व0 साहेब सिंह वर्मा, हाकी के जादूगर ध्यान चंद्र अलीगढ की शान हैं।

8bfe80fb-741e-4e17-b8a8-8c626de20f03

श्री हक़ ने कहा क़ि अफ़सोस की बात है कि दो सौ साल करीब हो चुके हैं, अभी  हाल ही में हमने सर सयैद का 199 वां जन्म दिन मनाया है । इतने लंबे वक्फा के बाद हमारे बीच दूसरा न तो सर सयैद पैदा हुआ और न ही अलीगढ जैसी कोई यूनिवर्सिटी ही बन पाई। कुछ मुस्लिम संस्थान अस्तित्व में ज़रूर आये है लेकिन उनका रुतबा न तो एमयू के बराबर है और न ही गरीब मुस्लमान उसमे पढ़ सकते हैं। वे बहुत मंहगे हैं। मैं किसान का बेटा हूँ ।अभाव में जीवन गुज़रा है । ये अलीगढ की देंन है कि मैं अध्यक्ष बना और कलकत्ता यूनानी मेडिकल कॉलेज और हॉस्पिटल में प्रोफेसर हूँ लेकिन बड़े दुःख की बात है सबका साथ सबका विकास का नारा देने वाली सरकार हमारी अक्लियती दर्जे को भी छीनना चाहती है। यह हमारा अधिकार है इसे कोई भी हम से  छीन नहीं सकता।  इसके पहले भी साजिशें हुई है जो नाकाम हुई थीं। यह भी नाकाम ही होंगी। आज हमें जरुरत है कि सर सयैद के मिशन को हम आगे बढ़ाएं।

 प्रो0 अनवारुल हक़ खान मूलतः सिद्धार्थनगर के सेंसरी ,बढ़नी के रहने वाले हैं। कलकत्ता यूनानी मेडिकल कॉलेज ,कलकत्ता में फिलवक्त प्रोफेसर हैं। वह बोर्ड ऑफ स्टडीज वेस्ट बंगाल के सदस्य भी है । छात्र संघ के अध्यक्ष भी रहे हैं। अभी हाल ही अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अलीगढ में आयोजित अलीगढ मुस्लिम यूनिवर्सिटी एंड अचिएवमेंट्स समिट में भी आप ने शिरकत की है। अलीगढ से शिक्षा पाए कुछ चुनिंदा शख्सियतों की अंतरराष्ट्रीय पर्सोनलिटी की सूची में भी आपको स्थान मिला है। अपने गांव में जूनियर हाई स्कूल की स्थापना कर उन्होने सर सयैद के मिशन को आगे बढ़ाने की हकीर कोशिश की है।

Leave a Comment