जनपद

बंदरों से परेशान किसानों ने प्रशासन से लगाई गुहार

सिसवा बाज़ार (महराजगंज), 10 जुलाई। निचलौल ब्लाक के ग्राम सभा बिसोखोर मदरहा,फुलही खोंच,बड़हरा टोला तथा चरगहां में लोग बंदरों से परेशां हैं. बंदरों ने लगभग 400 सौ एकड़ फसल  को नुकसान पहुँचाया है और कई ग्रामीणों को घायल कर दिया है.
क्षेत्र के नवमी यादव, हरिहर चौधरी, फूलबदन यादव, रमाकांत यादव, नरसिंह, जितेंद्र पूरी, रामप्रीत विंद, विसुनि यादव, आशीष शर्मा, जोगिन्दर चौधरी ने बताया कि वे बंदरों के अप्रत्याशित हमले से बुरी तरह प्रभावित हो रहे है। खेतों में लगभग 200 बन्दरों द्वारा फसलें बुरी तरह बर्बाद हो रही हैं. इतना ही नहीं एक साल से इन बन्दरों का आतंक गांव वालो पर भी भारी पड़ रहा है आये दिन ये किसी न किसी औरत या बच्चे पर भी हमला कर रहे हैं।जिससे लोगों का खेतों में जाना भी मुश्किल हो गया है।आलम यह है कि कुछ कृषक इनके भय से खेती करना भी छोड़ चुके हैं और कुछ लोग फसलों की रक्षा के लिए खेतों में मचान बनाकर इस बरसात के मौसम में दिन रात पहरा दे रहे हैं। काश्तकारों द्वारा सम्बंधित अधिकारीयों व वन कर्मचारियों से शिकायत के बावजूद भी आजतक इस समस्या का कोई ठोस हल नही निकाला गया है।

शनिवार को किसानो के आग्रह पर सामाजिक संस्था “पहल” के टीम ने आलोक शर्मा, के नेतृत्व में  डॉ पंकज तिवारी, विवेक चौरसिया मौके पर पहुँच कर बर्बाद हो रहे फसलों को देखा तथा एसडीएम निचलौल और वन विभाग के कर्मचारियों को किसानो के इस समस्या से अवगत कराते हुए समाधान की मांग की है।

Leave a Comment