समाचार

बहनों की शादी के लिए सऊदी अरब कमाने गये युवक की दुर्घटना में मौत

सिसवा बाजार (महराजगंज), 9 फरवरी. सऊदी अरब कमाने गये 22 वर्षीय युवक की दुर्घटना में  रविवार को मौत हो गई थी। मंगलवार की रात परिजनों को सुचना मिलने पर घर में कोहराम मच गया।
कोठीभार थाना अंतर्गत ग्राम गौरा दुबे के मौलवी टोला निवासी सर्वजीत उर्फ़ केसर के 22 वर्षीय इकलौते पुत्र शत्रुध्न की 4 फरवरी को बैल्डिंग का कार्य करने के दौरान सऊदी अरब में ड्रम में विस्फोट होने से घटना स्थल पर मौत हो गई। मंगलवार की रात परिजनों को सऊदी में रह रहे एक रिश्तेदार के मार्फत जब ये सुचना मिली तो घर में कोहराम मच गया।

shatrudhan
शत्रुध्न (फाइल फोटो)

सर्वजीत ने बताया कि शत्रुध्न 6 माह पूर्व 28 अगस्त 2017 को दूसरी बार सऊदी अरब के अलवाहा अलकीक शहर में सालेह सईद तहसान कंस्ट्रक्शन कंपनी में हेल्पर के पद पर कार्यरत था। रविवार को दोपहर में बैल्डिंग का कार्य कर रहा था उसी दौरान पास में रखे ड्रम में विस्फोट हो गया जिससे घटना स्थल पर शत्रुध्न की मौत हो गई। परिजनों ने केंद्र सरकार से शव को घर लाने में मदद की गुहार लगाई है।

गौरा दुबे के मौलवी टोला निवासी सर्वजीत उर्फ़ केसर के चार संतानों में इकलौता पुत्र शत्रुध्न है। बाकी तीन छोटी लड़कियां है जिसकी शादी की जिम्मेदारी को पूरा करने के लिये शत्रुघन सऊदी कमाने गया था।
शत्रुध्न बड़ा भाई होने के कारण अपने बहनो की शादी के लिए मन में सपने सजाए पैसे कमाने के लिए खाड़ी देश चला गया। घुघली में सफाईकर्मी पद पर कार्यरत पिता सर्वजीत ने इसी दौरान बड़ी बेटी रुक्मणी की शादी तय कर दी।पिता ने बताया कि बेटे से आखिरी बार बातचीत 3 फरवरी की रात में हुई थी। बेटी की शादी तय हो जाने की जब खुशखबरी दी तो शत्रुध्न ने पिता से कहा कि शादी का डेट 28 मई को डालियेगा तब तक मै कुछ पैसे का इंतज़ाम कर घर भेज दूँगा ताकि बहन की शादी में कुछ कमी ना रहे और धूम धाम से सम्पन्न हो सके। परन्तु कुदरत को शायद कुछ और ही मंजूर था। उसके अगले दिन रविवार को बैल्डिंग करने के दौरान दुर्घटना में बेटे की मौत हो गई। माँ कबूतरी देवी ने जब से जवान बेटे की मौत की समाचार सुना है तभी से सदमे के कारण बार बार बेहोश हो रही है।

Skip to toolbar