जनपद

भाई की तलाश में तीन वर्ष से भटक रहा है शैलेंद्र

तीन साल पहले गायब हुआ था उपेंद्र यादव,  पुलिस न उपेंद्र को खोज पाई न उसकी बाइक को

गोरखपुर, 1 जून । तीन साल हो गए उपेंद्र यादव के गायब हुए। उसकी तलाश के लिए भाई शैलेंद्र ने विदेश की नौकरी भी छोड़ी लेकिन लेकिन तलाश आज भी मुकम्मल नहीं हो सकी।
गगहा एरिया के पड़पुरवा निवासी ग्याहरवीं का छात्र उपेंद्र यादव 11 जुलाई 2013 को बाइक लेकर चचेरे भाई के वरक्षा में जाने को निकला उसके बाद आज तक नहीं लौटा। काफी तलाश करने के बाद बड़े भाई शैलेंद्र ने भाई की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करायी।
बड़े भाई ने छोटे भाई की तलाश के लिए विदेश की नौकरी भी छो़ड़ दी। फिर शुरू हुई कभी खत्म ना होने वाली तलाश। जो आज तक पूरी नहीं हुई है। उसकी बाइक भी बरामद करने में पुलिस नाकाम साबित हुई। तमाम आला अधिकारियों से गुहार के बाद भी तलाश किसी नतीजे पर नहीं पहुंच सकी। हर जगह मामले पर कार्यवाई का आदेश हुआ लेकिन परिणाम सिफर निकला।
शैलेंद्र यादव का कहना है कि छोटे भाई का अपहरण कर लिया गया है। अपहरण का मुकदमा भी स्थानीय थाने में दर्ज है लेकिन प्रशासन की अनदेखी एवं सुस्त रवैये के कारण अब तक कोई सुराग नहीं लगा। प्रशासनिक अधिकारियों के चक्कर लगा कर थक चुका हूं। मुख्यमंत्री के पास भी आवदेन भेजा लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई।

Leave a Comment