समाचार

योगी हिन्दू हैं तो हम क्या हैं -अखिलेश यादव

गोरखपुर, 8 मार्च। सीएम योगी आदित्यनाथ को निशाने पर लेते हुए पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कहा, ‘वह (योगी) कहते हैं कि हिंदू हैं। अगर वह हिंदू हैं तो हम क्या हैं? अगर हम हिंदू नहीं हैं तो क्या पिछड़े और दलित हैं? अखिलेश ने पूछा कि वह बता दें कि हिन्दू की परिभाषा क्या है ?’

गोरखपुर उपचुनाव में प्रचार के लिए 7 मार्च को चंपा देवी पार्क पहुंचे समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव बीजेपी पर जमकर बरसे। इस दौरान यूपी के पूर्व सीएम ने सीएम योगी आदित्यनाथ के बयान पर पलटवार किया। अखिलेश ने कहा कि अब हम लोग सांप-छछूंदर हो गए हैं। उन्होंने कहा कि जो उन लोगों को सांप-छछूंदर कह रहे हैं, उन लोगों को उन्होंने संसद में गूंगे बैठे देखा है।

अखिलेश यादव ने अपने कार्यकाल के दौरान किए गए काम को गिनाते हुए कहा कि वह लैपटॉप बांटने वाले, समाजवादी ऐंबुलेंस चलाने वाले को सांप और छछूंदर कहा जा रहा है. जब से बहुजन समाज पार्टी ने हमें समर्थन दिया है, तभी से इनकी भाषा बदल गई है. इसको लोग समझ रहे हैं.

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा का बूटा नहीं है कि वह भ्रष्टाचार ख़त्म कर सके. इनके करने से भ्रष्टाचार खत्म नहीं होने वाला। काला धन नहीं आने वाला। सरकार में बैठे मंत्री ही बोल रहे हैं कि लूट और भ्रष्टाचार बढ़ गया है। अब तो भ्रष्टाचारी पकड़े नहीं जा रहे, बल्कि विदेश जा रहे हैं.

एसपी सुप्रीमो ने कहा, ‘कोई भी थाने में यादव हो, तो उसे हमारा रिश्तेदार बता दिया जाता था। अब वह जानना चाहते हैं कि अब थानों में किसके रिश्तेदार हैं? लखनऊ से लेकर गोरखपुर में अब थाने कौन चला रहा है?’

गोरखपुर में ऑक्सीजन के बिना बच्चों की हुई मौतौं के मामले में अखिलेश ने कहा कि अगर समय से बच्चों को ऑक्सीजन मिल जाती, तो उनकी जान नहीं जाती। एक मां के कई साल बाद जुड़वा बच्चे हुए लेकिन उन्होंने दोनों बच्चे खो दिए, क्योंकि उन्हें ऑक्सीजन नहीं मिली। हमारी सरकार नहीं थी तब भी हमने पीड़ित परिवारों की मदद की।

अखिलेश ने कहा कि हमारी सरकार मदद करती थी, तो यही लोग हिंदू-मुस्लिम का चश्मा लगा देते थे। अब उनकी सरकार नहीं थी फिर भी मदद की तो किसकी की? उन्होंने कहा कि यह सरकार उनके काम का मुकाबला नहीं कर सकती। 15 लाख कितनों के अकाउंट में आए? अगर इस वादे पर आप वोट दे रहे हैं, तो हम 30 लाख देने का वादा करेंगे।

अखिलेश ने बीजेपी पर हमला करते हुए कहा, ‘बच्चे मरे तो मुख्यमंत्री कह रहे थे कि बच्चों के इलाज की जिम्मेदारी मेरी नहीं है। इनके मंत्री बोले इस मौसम में मरते ही हैं। इनके राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि इससे हमारा कोई लेना-देना नहीं है। हमारा वादा है कि एसपी सरकार आई, तो बच्चों की मौत की जांच कराएगी और जो भी दोषी होगा उस पर ऐक्शन होगा।’

यूपी के पूर्व सीएम ने कहा, ‘यह आम चुनाव नहीं है। बड़ी मुश्किल से चुनाव हो रहा है। इन्होंने एमएलसी तोड़े, जिससे जनता का सामना न करना पड़े लेकिन चुनाव न कराने की एक सीमा होती है, इसलिए इन्हें कराना पड़ा।’
रोज़ खेलें और जीतें। उन्होंने निषाद पार्टी को सपा का छोटा भाई कहा और उपचुनाव में समर्थन देने वाले सभी दलों को धन्यवाद दिया.

Skip to toolbar