जनपद

वरिष्ठ पत्रकार अरविन्द तिवारी का निधन, पत्रकारों में शोक

महराजगंज, 5 जनवरी. वरिष्ठ पत्रकार अरविन्द तिवारी का 4 जनवरी की रात परतावल ब्लाक के सियरहींभार स्थित उनके आवास पर हृदय गति रुकने से निधन हो गया। उनके निधन पर पत्रकारों, साहित्यकारों ने शोक व्यक्त किया है.
दिवंगत पत्रकार अरविन्द तिवारी का अंतिम संस्कार  कप्तानगंज स्थित रामजानकी घाट पर किया गया।उनके बडे भाई बृजेन्द्र तिवारी ने उन्हे मुखाग्नि दी। इस दौरान वरिष्ठ पत्रकार लालजी भ्रमण, लालचन्द गुप्ता, जर्नलिट्स प्रेस क्लब के संरक्षक जय प्रकाश सिंह, रविन्द्र चौबे, कैलाश सिंह, कमला यादव, मनोज चौबे आदि मौजूद रहे।

जिलाधिकारी वीरेन्द्र कुमार सिंह ने पत्रकार अरविन्द तिवारी के निधन पर गहरा दुख प्रकट करते हुये उनकी आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की और इसे जिले के पत्रकारिता जगत की बडी क्षति बताया है।

जिला सूचना एवं जनसम्पर्क कार्यालय में भी शोक सभा कर पत्रकारों ने मृतक पत्रकार अरविन्द तिवारी के आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की। जिला सूचना अधिकारी प्रभाकर तिवारी ने भी गहरा दुख प्रकट किया। इस दौरान अब्दुल वहाब अंसारी, भारत कुमार, गोरखनाथ, श्रीकृष्ण यादव, विजय कुमार चौरसिया, कृष्णमुरारी पटेल, प्रमोद कुमार आदि मौजूद रहे।
निचलौल के ब्लाक सभागार स्थित प्रमुख कक्ष में गुरुवार को जर्नलिस्ट्स प्रेस क्लब के तहसील अध्यक्ष रवि प्रताप सिंह की अध्यक्षता में एक शोक सभा का आयोजन किया गया जिसमें जनपद के वरिष्ठ पत्रकार अरविन्द तिवारी के निधन पर पत्रकारों ने शोक प्रकट करते हुए उनकी आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की।
जप्रे क्लब के तहसील संरक्षक अजय जायसवाल ने कहा कि अरविन्द तिवारी का यू अचानक चले जाना दुखद है। वे एक बेबाक, निडर और निष्पक्ष पत्रकारिता के मजबूत स्तम्भ थे।उनके निधन से पत्रकारिता जगत की बडी क्षति हुई है।क्लब के तहसील अध्यक्ष रवि प्रताप सिंह ने कहा कि बेहद मिलनसार सरल व्यक्तित्व एवं कर्मठी पत्रकार श्री तिवारी हम युवा पत्रकारों के लिए प्रेरणा के श्रोत थे। वे अक्सर अपनी लेखनी से हम सभी को सीख देते थे. इसके साथ सभी पत्रकारों ने दिवंगत मान्यता प्राप्त पत्रकार के आश्रितों को सरकार से उचित अहेतुक सहायता दिये जाने की भी मांग की।
इस दौरान वरिष्ठ पत्रकार दिग्विजय नारायण मिश्र, पुनीत मिश्र, मनोज राय, सुधांसु नारायण तिवारी, शैलेष पाण्डेय, जितेन्द्र तिवारी, शमशाद आलम, राजकमल कुशवाहा आदि मौजूद रहे।

Leave a Comment