जनपद

कायाकल्प योजना की सर्वे टीम ने सिसवा पीएचसी में स्वच्छता, रखरखाव व दस्तावेजों की जांच की

कायाकल्प योजना के अंतर्गत राज्य स्तरीय स्वास्थ्य विभाग टीम ने किया सिसवा पीएचसी का सर्वे

सिसवा बाज़ार (महराजगंज), 7 फरवरी। बुधवार को सिसवा  प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर कायाकल्प योजना के अंतर्गत स्वास्थ्य विभाग के राज्य स्तरीय दो सदस्यीय सर्वे टीम ने अस्पताल के स्वच्छता, रखरखाव व दस्तावेजों की जांच की।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महत्वकांक्षी योजना स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत कायाकल्प पुरस्कार योजना के तहत राज्यस्तरीय दो सदस्यीय सर्वे टीम ने सिसवा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का सर्वे किया।टीम के मुखिया क्षेत्रीय परियोजना प्रबन्धक डॉक्टर डी देवनाथ व धर्मेंद्र पाठक के नेतृत्व में जिले के डॉ संतोष ओझा,डॉ जशवंत मल्ल, बृजेश कुमार विश्वकर्मा ने अस्पताल के प्रसूति गृह, प्रयोगशाला, दवा वितरण, वैक्सीन कक्ष, एनएचआरएम के अंतर्गत लाभार्थी के दस्तावेज व परिसर की रखरखाव का निरीक्षण किया। इसके बाद वार्ड बॉय,फार्मासिस्ट,नर्सों से मरीज को इंजेक्शन लगाते समय बरते जाने वाली सावधानियों के बाबत सवाल पूछे।

पत्रकारों से बातचीत करते हुए टीम के सदस्यों ने बताया कि भारत सरकार द्वारा चलाए जा रहे इस महत्वकांक्षी योजना में प्रदेश स्तर पर स्वास्थ्य केंद्रों की प्रतिस्पर्धा कराई जा रही है जिसके अंतर्गत सभी केंद्र अपने उच्च स्तरीय स्वछता व रखाव सहित मानक के अनुरूप खरा उतर कर  प्रदेश स्तरीय ग्रेडिंग में अपनी स्थान सुनिश्चित करेंगे।इस सर्वे में 70 प्रतिशत से ऊपर अंक प्राप्त करने  वाले केंद्रों की भारत सरकार द्वारा प्रोत्साहन राशि के रूप में दो लाख रुपये दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि सिसवा पीएचसी में कोई कमियां नही मिली है परंतु ग्रेडिंग के अनुसार अंक अभी सार्वजनिक नही किया जा सकता है।इस दौरान चिकित्साधिकारी डॉ ओमशिव मणि त्रिपाठी,डॉ पवन सिंह,डॉ राजेश गुप्ता,डॉ अतुल रंजन,डॉ नंन्दनी सिंह,कमलेश सिंह,अवधेश यादव,डॉ मनोज दुबे,कृति तिवारी,बेबी पटेल,प्रदीप चौरसिया,शिवानंद उपाध्याय,श्री कृष्ण,मुनिराम सहित अन्य कर्मचारी मौजूद रहे।

Skip to toolbar