समाचार

जूताकांड की आग अभी भी गरम, भाजपा के सम्मेलन में सांसद और प्रदेश अध्यक्ष के खिलाफ नारेबाजी, कुर्सियां तोड़ी गईं

संतकबीरनगर। संतकबीर नगर जिले में भाजपा सांसद शरद त्रिपाठी और भाजपा विधायक राकेश सिंह बघेल के बीच हुए जूताकांड की आग अभी ठंडी नहीं हुई। शनिवार को मेंहदावाल में जगत गुरु इंटर कालेज में आयोजित विजय संकल्प युवा सम्मेलन में भाजपा कार्यकर्ताओं के एक समूह ने सांसद शरद त्रिपाठी मुर्दाबाद का नारा लगाते हुए जमकर हंगामा किया।

इन कार्यकर्ताओं ने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र नाथ पांडेय के खिलाफ भी नारेबाजी करते हुए कार्यक्रम में लगी कुर्सियों को तोड़ दिया।

हंगामा इतना बढ़ा कि पुलिस को हल्का बल प्र्रयोग करना पड़ा। इस हंगामे के चलते भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष कार्यक्रम में नहीं पहुंचे और रैली को स्थगित कर दिया गया।

नारेबाजी करने वाले कार्यकर्ता भाजपा विधायक राकेश सिंह बघेल के समर्थक थे।

यह कार्यक्रम दोपहर में शुरू हुआ। दोपहर दो बजे इसमें भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र नाथ पांडेय को पहुंचना था। कार्यक्रम चल रहा था कि कार्यकर्ताओं का एक समूह भाजपा विधायक राकेश सिंह और जय चैबे के समर्थन में नारे लगाने लगा। इस पर मंच पर बैठे नेताओं ने नारेबाजी करने से मना किया। इससे नारेबाजी कर रहे कार्यकर्ता भड़क गए और वे भाजपा सांसद शरद त्रिपाठी के खिलाफ नारे लगाने लगे।

ये कार्यकर्ता शरद त्रिपाठी के विरोध में तख्तियां भी लिए हुए थे। इसी बीच कुछ लोगों ने कुर्सियां तोड़नी शुरू कर दी। कुछ लोग गालियां भी दे रहे थे और मारने-पीटने की बात कर रहे थे। कुछ कार्यकर्ता मंच पर चढ़ गए और नारेबाजी करने लगे। इन कार्यकर्ताओं ने भाजपा सांसद शरद त्रिपाठी के साथ-साथ भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र नाथ पांडेय के खिलाफ भी नारेबाजी की। जवाब में सांसद शरद त्रिपाठी के समर्थन में भी नारे लगे। हालत बिगड़ता देख वहां मौजूद पुलिस कर्मियों ने कुर्सियां तोड़ रहे कार्यकर्ताओं को दौड़ा लिया।

हंगामा और तोड़फोड़ की जानकारी मिलने पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र नाथ पांडेय कार्यक्रम में नहीं पहुंचे और बीच रास्ते से ही वापस चले गए। भाजपा सांसद शरद त्रिपाठी भी कार्यक्रम में मौजूद नहीं थे। बताया गया कि वह दिल्ली में हैं।

भाजपा जिलाध्यक्ष सेतवान राय ने कहा कि हंगामा के चलते कार्यक्रम स्थगित कर दिया गया है। प्रदेश नेतृत्व को घटना से अवगत कराया गया है। पूरे मामले पर विस्तृत रिपोर्ट शीर्ष नेतृत्व को भेजी जाएगी।

Leave a Comment