स्वास्थ्य

एईएस को लेकर महराजगंज में हाई एलर्ट, साफ-सफाई सहित अन्य एहतियात बरतने के निर्देश

जिला अस्पताल महराजगंज (फाइल फोटो)

महराजगंज। बिहार में एईएस के मरीजों की संख्या में वृद्धि होने से महराजगंज जनपद में हाई एलर्ट जारी कर दिया गया है।

इस संबंध में संचारी रोग नियंत्रण के नोडल अधिकारी डाक्टर विवेक श्रीवास्तव ने बताया कि बिहार में एईएस रोगियों की संख्या में वृद्धि देखी जा रही जिसका प्रभाव महराजगंज जनपद में पड़ सकता है। ऐसे में जेई/ एईएस से निपटने के लिए यहाँ हाई एलर्ट किया गया है।

इसके तहत जिले के सभी इंसेफलाटिस सेंटर, पीआईसीयू व मिनी पीआईसीयू पर तैनात चिकित्सकों को 24 घंटे एलर्ट रहने को कहा गया है।

चिकित्सकों व चिकित्सा कर्मियों को सख्त निर्देश दिए गए हैं कि इस बीमारी से ग्रसित जो भी मरीज आए उसका त्वरित इलाज शुरू किया जाय, इसमें तनिक भी देरी व लापरवाही न किया जाए। लापरवाही बरतने वाले चिकित्सकों व चिकित्सा कर्मियों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी।

जेई/ एईएस से बचाव के उपाय

– स्वच्छता पर विशेष ध्यान दें।
– मच्छरों से बचाव के लिए मच्छरदानी का प्रयोग करें।
-तेज बुखार आने पर नजदीक के सरकारी अस्पताल पर जाएँ। तत्काल इलाज शुरू कराएं।
-आवास के पास गंदगी न होने दें।
-आवास के आसपास जल भराव न होने दें।
– आवास के आसपास जल फागिंग व छिडकाव कराएं।
-घर में रखे गए कुलर का पानी रोज बदलें। किसी भी बर्तन में जल एकत्र न होने दें।

साढ़े पांच महीना में एईएस के 42 मरीज मिले, 8 की मौत 

एक जनवरी 2018 से 15 जून के बीच जनपद में एईएस के कुल 42 मरीज भर्ती हुए, जिसमें से दो की मृत्यु हो गई। पिछले साल से चल रहे दस्तक अभियान से इन साल जेई /एईएस पर नियंत्रण का दावा किया जा रहा है।

अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाक्टर विवेक श्रीवास्तव ने बताया कि पिछले साल इसी अवधि में एईएस के कुल 52 मरीज भर्ती हुए थे जिसमें से आठ की मौत हो गई थी।

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz