लोकसभा चुनाव 2019

सांसद बनने पर फ़िल्म लाइन का त्याग करने को तैयार हूँ -रवि किशन

गोरखपुर. गोरखपुर से बीजेपी प्रत्याशी रवि किशन ने यदि वह सांसद चुने जाते हैं तो फ़िल्म लाइन का त्याग करने को तैयार हैं. जब मन करेगा तो गोरखपुर या जौनपुर के आस-पास ही शूटिंग कर लेंगे. यही पर रहकर भोजपुरी फ़िल्म इंडस्ट्री डेवलप करेंगे.
रवि किशन ने यह बातें 19 अप्रैल को पत्रकारों से बातचीत में कही. उन्होंने कहा कि उनके पास आज नाम, पैसा सब कुछ है लेकिन जिस गाँव में वह रहते हैं वहां एक साल पहले तक सड़क नही थी, विकास कुछ भी नही हुआ था. वह लोगों को अपने घर बुलाने में संकोच करते थे. इस बदहाली को लेकर बड़ी पीड़ा होती थी. लेकिन वहां पर विकास योगी जी और मोदीजी की वजह से हुआ.
उन्होंने कहा कि सांसद बनने के बाद फ़िल्म लाइन से मैं कट जाऊंगा, मेरा काम कम हो जाएगा क्योंकि उस वक्त मेरी जिम्मेदारी अलग हो जाएगी. फ़िल्म वाले भी मुझे तब लेने में हिचकेंगे लेकिन मैं अपने इस त्याग के लिए तैयार हूं. आप अगर कुछ दिन फ़िल्म लाइन से दूर रहे तो आपका सब्सिट्यूट आ जाता है क्योंकि वहां 10 लाख स्ट्रगलर घूम रहे हैं. जब मन करेगा तो गोरखपुर या जौनपुर के आस पास में ही शूटिंग कर लूंगा. यही पर भोजपुरी फ़िल्म इंडस्ट्री डेवलप करेंगे. यहां पर योगी जी ने इतना विकास किया है कि गोरखपुर को हाईटेक सिटी में बदल दिया है. यहां से कोई अभागा ही होगा जो भाग कर जाएगा.
फिल्म अभिनेता ने कहा कि वह खांटी गांव के लड़के हैं. उन्होंने गांव और गरीबी दोनों देखी हैं.  भोजपुरी को आठवीं अनुसूची में शामिल कराने के सवाल पर रवि किशन ने कहा कि मनोज तिवारी इस समय पार्लियामेंट में अकेले हैं.अब उनके अलावा वह और दिनेश लाल यादव भी पार्लियामेंट पहुंचेंगे तो महादेव की कृपा से भोजपुरी को आठवीं अनुसूची में वह लोग शामिल करा देंगे. प्रियंका गांधी के पूर्वांचल दौरे पर रवि किशन ने कहा कि बीजेपी में हम लोग नारी का सम्मान बहुत करते हैं. प्रियंका जी महिला हैं, वह यहां पर आएं, पार्टी करें, डेमोक्रेसी है यहाँ…. लेकिन यह चुनाव मोदी जी ही जीत रहे हैं. मोदी जी को अब सबका वोट मिल रहा है.
सपा के वरिष्ठ नेता आज़म खान के बयान पर आक्रोश प्रकट करते हुए रवि किशन ने कहा कि आजम खान ने हमारी सीनियर कलाकार जयप्रदा जी के बारे में काफी गलत बोला. यह ओछी राजनीति और अभद्र भाषा हार के डर से उन्होंने बोला है और इसकी वजह से उनका वोट रेशियो गिर गया है. उनके मुंह से यह बात निकलने के बाद जयाप्रदा जी प्रचंड वोट से जीत रही हैं और आजम खान की जमानत भी जब्त हो जाएगी.  ऐसी बयानबाजी कर के लोग घर कैसे जाते होंगे और अपने घर की महिलाओं को कैसे देखते होंगे यह समझ में नहीं आता.
रवि किशन ने माना कि 2018 के उपचुनाव में बीजेपी के कार्यकर्ता ओवरकॉन्फिडेंस हो गए थे जिसकी वजह से हमें चुनाव हार गए लेकिन इस चुनाव में कार्यकर्ता जीत की सुनामी लेकर आएंगे. इस बार की जीत ऐतिहासिक होगी और लोग इस चुनाव को याद रखेंगे.

Leave a Comment