स्वास्थ्य

अब शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर भी मिलेगी ‘ अंतरा ‘ व ‘ छाया ‘ की सुविधा

सिविल लाइन स्थित शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र से हुई लांचिंग

गोरखपुर। बच्चों में अंतर रखने की आधुनिक परिवार नियोजन पद्धति त्रैमासिक अंतरा इंजेक्शन और साप्ताहिक गोली छाया की सुविधा अब शहर के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों (यूपीएचसी) पर भी शुरू हो गई है।

अपर मुख्य चिकित्साधिकारी व जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. आईवी विश्वकर्मा ने 4 अप्रैल को सिविल लाइन स्थित शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर इनकी लांचिंग की। उन्होंने बताया कि फिलहाल शहर के सत्रह यूपीएचसी पर यह सुविधा मिलेगी।

डा. आईबी विश्वकर्मा ने बताया कि गैर सरकारी संगठन पापुलेशन सर्विस इंटरनेशनल की मदद से स्वास्थ्य विभाग इन सुविधाओं को जन-जन तक पहुंचाएगा। अभी ये सुविधा वहां शुरू की गई है जहां चिकित्सक, स्टाफ नर्स व एएनएम को ट्रेनिंग दी जा चुकी है। शहर के अन्य यूपीएचसी के चिकित्सकों और स्टाफ नर्स के प्रशिक्षण के बाद वहां भी अंतरा व छाया की सुविधा मिलने लगेगी। इस अवसर पर नगरीय स्वास्थ्य केंद्र के समन्वयक सुरेश सिंह चौहान, जिला स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी ओपीजी राव, प्रभारी चिकित्साधिकारी डा. प्रियंका और पीएसआई से केवल सिंह सिसौदिया प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

इन यूपीएचसी पर मिलेगी सुविधा

सिविल लाइन, तारामंडल, बेतियाहाता, तुर्कमानपुर, बिछिया, रामपुर, झरना टोला, बसंतपुर, दीवान बाजार, गोरखनाथ, नथमलपुर, अंधियारीबाग, जाफरा बाजार, शाहपुर, शिवपुर, मोहद्दीपुर, हुमायूंपुर, जटेपुर और इस्लामचक

अंतरा और छाया को जानिये

अंतरा लगवाने के पहले स्वास्थ्य केंद्र का प्रशिक्षित चिकित्सक महिला की प्राथमिक स्क्रीनिंग और जांच करवाता है। पहला डोज चिकित्सक की निगरानी में ही स्टाफ नर्स या एएनएम लगाएगी। पहले डोज और दूसरे डोज के बीच तीन महीने से ज्यादा का गैप नहीं होना चाहिए। हर तीन महीने पर डोज लेकर अनचाहे गर्भ से छूटकारा पाया जा सकता है। जिला स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी ओपीजी राव ने बताया कि अंतरा लगने के बाद कुछ हार्मोनल बदलाव आते हैं लेकिन इन बदलावों का सेहत पर कोई बुरा प्रभाव नहीं पड़ता है। अगर पहला डोज लगने के बाद कोई दिक्कत महसूस हो तो केयरलाइन नंबर 18001033044 पर फोन करके परामर्श ले सकते हैं। ऐसी दिक्कत होने पर दूसरा डोज भी चिकित्सक के परामर्श व निगरानी में ही लगना चाहिये। उन्होंने बताया कि छाया एक साप्ताहिक गर्भ निरोधक गोली है जिसका सेवन चिकित्सक के परामर्श के अनुसार किया जाता है।

Leave a Comment