समाचार

राप्ती नदी के प्रवाह बदलने के सिर्फ और सिर्फ दुष्परिणाम सामने आयेंगे -राजेन्द्र सिंह

गोरखपुर.मशहूर पर्यावरणविद् एवं जल संरक्षण के लिए महत्वपूर्ण कार्य करने के नाते जल पुरूष के नाम से विख्यात सामाजिक कार्यकर्ता राजेन्द्र सिंह ने 23 अप्रैल को बेलीपार क्षेत्र के करंजही गांव में राप्ती नदी पंचायत को संबोधित किया. यह आयोजन राप्ती नदी की धारा मोड़ने के विरोध में आन्दोलन कर रहे ग्रामीणों के संगठन ‘ नदी बचाओ-गांव बचाओ संघर्ष समिति ‘ ने किया था. उन्होंने कहा है कि राप्ती नदी के प्रवाह को बदलने की योजना राप्ती नदी की हत्या की योजना है। इसके सिर्फ और सिर्फ दुष्परिणाम सामने आएंगे। नदी पर राज्य, समाज और संत यानि नदी को बनाने वाली प्रकृति का साझा अधिकार है। नदी के दोनों तटों पर रहने वाले समाज की सहमति के बिना नदी के प्रवाह में दखल देना पर्यावरण की दृष्टि से गलत तो है ही, संवैधानिक व कानूनी रूप से भी गलत है। श्री सिंह का पूरा भाषण सुनिए.

Leave a Comment