समाचार

लोक निर्माण विभाग ने माना -असुरन-मेडिकल रोड के निर्माण में हुई लापरवाही

गोरखपुर.  नगर विधायक डा राधा मोहन दास अग्रवाल के साथ जिलाधिकारी तथा नगर आयुक्त की उपस्थिति में आज हुई बैठक में लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों ने असुरन-मेडिकल रोड के निर्माण में अपनी सभी गलतियों और लापरवाहियों को स्वीकार कर लिया और समय-बद्ध तरीके से सारी कमियां दूर करके निर्माण पूरा कराने का लिखित आश्वासन दिया.

बैठक में निर्माणाधीन सडक पर ठीक से पानी डालने का काम 14 दिसम्बर से करने, संयुक्त टीम द्वारा नालों की लेवल चेकिंग, कनेक्टिंग रोड पर मोटरेबुल सुरक्षित रास्ता व सभी मोड़ो पर पथ प्रकाश की व्यवस्था 20 दिसम्बर तक करने का निर्णय लिया गया. नालों का पूरा निर्माण फरवरी और पूरी सड़क मार्च 2020 तक पूरा करने की भी सहमति बनी.

बैठक में नगर विधायक ने कहा कि छात्र शक्ति पहले से ही प्रदेश स्तर पर ब्लैक लिस्टेड कम्पनी है और अगर निर्माण में इतनी लापरवाही दिखा रही है तो अब तक इसके विरुद्ध कार्रवाई के लिए शासन को लिखना चाहिये था. इससे स्पष्ट है कि अधिकारियों की ठेकेदार से दुरभिसंधि है.

 बैठक में डा अग्रवाल ने  नगर निगम की लिखित रिपोर्ट प्रस्तुत की,जिसमें लिखा था कि मेडिकल रोड का नाला मोहल्लों से आने वाले नालों से 80 सेंटीमीटर ऊंचा है और रोड बनने के बाद बहुत सी कालोनियों में जल जमाव होगा. इस पर जिलाधिकारी ने बहुत नाराजगी दिखाई. उन्होंने ने नगर विधायक से सहमत होते हुए कहा  कि लोक निर्माण विभाग तथा नगर निगम के अधिकारी संयुक्त रूप से दोनो नालों के बेस लेवल की जाँच करेंगे और विभाग ऊंचे बने हुये नालों  को तोडकर फिर से बनायेगा.

 नगर विधायक ने नालों के बड़े हिस्से में ह्यूम-पाईप डाले जाने और खुले नालों को पूरी तरह ढँकने पर आपत्ति व्यक्त की. उन्होंने कहा कि बड़े लोगों को लाभ पंहुचाने के लिए उनके दबाव में ऐसा किया गया. उन्होंने कहा कि ऐसे नाले की सफाई बिल्कुल नही हो पायेगी और साल भर में नाला चोक होकर बंद हो जायेगा.  बैठक में तय हुआ कि सडकों के क्रास तथा सडकों के मोड को छोड़कर शेष सारे ह्यूम-पाईप खोदकर निकाल दिये जायेंगे और उनके स्थान पर खुले नाले बनाये जायेंगे तथा नालों को सिर्फ 3 मीटर की लम्बाई में ही कवर किया जायेगा,शेष स्थानों पर उठा सकने वाले ढक्कन लगाये जायेगे. नगर विधायक की मांग पर यह भी तय हुआ कि नालों के मिलने की जगह पर नान-रिटर्निंग वाल्व लगवाये जाये,जिससे नाले का पानी मोहल्लों में वापस न जा पाये.

बैठक में यह भी तय हुआ कि लोक निर्माण विभाग मेडिकल रोड पर मिलने वाली सभी सडकों पर प्राथमिकता पर पहले मोटरेबुल सुरक्षित रास्ता बनायेगा , जिससे आगे नागरिकों के साथ कोई दुर्घटना न होऔर सभी स्थानों पर निर्माण के दौरान प्रकाश की व्यवस्था करेगा। बैठक में तय हुआ कि लोक निर्माण विभाग सभी स्थानों पर नाले बंद करने के पहले पर्याप्त पम्पों को संचालित करेगा ,जिससे निर्माणके दौरान जल जमाव न होने पाये . नालों के ऊपर पैदल चलने की व्यवस्था न होकर यूटिलिटी डक्ट के ऊपर की जायेगी.

नाला को मेडिकल कॉलेज के बजाय झुगिया गांव के मोड़ तक बढाने, निर्माण के दौरान धूल-धक्कड पर नियंत्रण के लिये नियमित रूप से पानी से नमी कराने और टुकड़े टुकड़े में बेतरतीब तरीके से नाले बनाने की जगह एक सिरे से नाला बनाने पर भी सहमति बनी. नगर विधायक ने नगर आयुक्त को निर्देशित किया कि 15 तारीख को युद्धस्तर पर हडहवा फाटक से एचएन सिंह चौराहे तक नालेकी तल्लीझार सफाई कराई जाये.


बैठक में नगर विधायक डा राधा मोहन दास अग्रवाल ,जिलाधिकारी विजेन्द्र पाण्डियन ,नगर आयुक्त अंजनी कुमार सिंह,नगर निगम के मुख्य अभियंता सुरेश चन्द्रा ,उप नगर आयुक्त अवनीन्द्र सिंह,लोक निर्माण विभाग के प्रांतीय खण्ड के अधिशासी अभियंता प्रवीण कुमार तथा सहायक अभियंता राजेश कुमार तथा अवर अभियंता गण उपस्थित थे।

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz