समाचार

पल्स पोलियो अभियान : गोरखपुर जिले में सात लाख बच्चों को दी जाएगी पोलियो वैक्सीन

जिले में सात अप्रैल से 12 अप्रैल तक चलेगा पल्स पोलियो अभियान, डब्ल्यूएचओ और यूनीसेफ समेत कई अन्य विभाग करेंगे सहयोग

गोरखपुर। जिले में सात अप्रैल से पल्स पोलियो अभियान शुरू होने जा रहा है। 12 अप्रैल तक चलने वाले इस अभियान में करीब सात लाख बच्चों को पोलियो की वैक्सीन देने का लक्ष्य रखा गया है। अभियान का उद्घाटन जिला महिला अस्पताल से होगा। इसे सफल बनाने के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) और यूनीसेफ समेत कई अन्य सरकारी विभाग के लोग सहयोग कर रहे हैं। इस संबंध में पिछले दिनों डिस्ट्रिक्ट टास्क फोर्स की बैठक में जिम्मेवारियां तय की गयीं।

मुख्य चिकित्साधिकारी डा. श्रीकांत तिवारी ने बताया कि अभियान का नारा है ‘’दो बूंद हर बार’’। अभियान में शून्य से पांच वर्ष के बच्चों को दवा पिलाई जाएगी। उद्घाटन के दिन जनपद के कुल 1887 बूथों पर पोलियो ड्राप पिलाई जाएगी जबकि अगले दिन से घर घर जाकर टीम बच्चों को दवा पिलाएगी। अपर मुख्य चिकित्साधिकारी व जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. आईवी विश्वकर्मा ने बताया कि अभियान के तहत आशा बहू और एएनएम को खासतौर से निर्देशित किया गया है कि एक भी बच्चा छूटने न पाए। अभियान के पर्यवेक्षण के लिए 517 पर्यवेक्षक तैनात किए गए हैं।

यूनीसेफ ने किया संवेदीकरण
बासगांव ब्लाक के उनवल ग्राम पंचायत में पल्स पोलियो अभियान को लेकर यूनीसेफ ने एक सामुदायिक बैठक की और विभिन्न वर्गों से आए लोगों का संवेदीकरण किया। ग्राम प्रधान उमाशंकर निषाद की अध्यक्षता में यूनीसेफ के डीएमसी ग्वासुद्दीन ने लोगों को टीकाकरण के महत्व और पल्स पोलियो अभियान की जानकारी दी। गांव व इसके आसपास के इलाकों में पोस्टर-बैनर भी लगाए गए। बैठक में उनवल के प्रभारी चिकित्साधिकारी, मंदिर के पुजारी, मदरसा शिक्षक, आशा बहू और एएनएम प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

पल्स पोलियो अभियान पर एक नजर
कुल लक्षित बच्चे-6,98,620
कुल पोलियो बूथ-1887
कुल टीम-1496
कुल पर्यवेक्षक-517
कुल वैक्सीनेटर-2922

Leave a Comment