जनपद

बीआरसी घुघली में शिक्षकों का संचारी रोग प्रशिक्षण कार्यक्रम सम्पन्न

घुघली ( महराजगंज ) 9 जुलाई । संचारी रोग नियंत्रण माह के अंतर्गत आज बीआरसी घुघली पर शिक्षकों का एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम हुआ। कार्यक्रम में शिक्षको को संबोधित करते हुए सहायक जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी श्याम सुंदर पटेल ने कहा कि अपने आस-पास की साफ सफाई रखने से ही इंसेफेलाइटिस से बचाव किया जा सकता है।

इस अवसर पर चर्चा के दौरान डॉ धनञ्जय मणि त्रिपाठी ने संचारी रोगों के बारे में बिस्तार से बताते हुए कहा कि इंसेफलाइटिस एक संचारी रोग है। घर घर दस्तक देकर और लोगो को जागरूक करके ही इस बीमारी से निजात पाया जा सकता है। उन्होंने पूर्वांचल में इंसेफलाइटिस के प्राकृतिक उपचार जैसे पनियाला, गिलोय, लेमनग्रास, और सूर्य चिकित्सा के बारे में विस्तार से बताया।

मास्टर ट्रेनर बेद प्रकाश प्रजापति ने कहा कि दस्तक कार्यक्रम सरकार की एक महत्वाकांक्षी परियोजना है। इससे हर घर में जाकर हम अभिभावकों को जागरूक कर सकते है।

सह समन्यक परमानंद विश्वकर्मा ने बताया कि अध्यापक का दायित्य है कि जब भी किसी बच्चे  को बुखार हो तो झोला छाप डॉक्टरों के चक्कर मे न पड़कर तत्काल नजदीकी के स्वास्थ्य केंद्र पर लेकर जाएं।

इस अवसर पर कुल 63 शिक्षको में से 43 शिक्षको ने प्रतिभाग किया। कार्यक्रम में उपस्थित ट्रेनर और शिक्षको का धन्यवाद ज्ञापन बीआरसी सहसमन्यक पारस नाथ ने किया।

Leave a Comment