जनपद

रामकोला मेंं एक्सप्रेस ट्रेन के ठहराव के लिये यात्रियों ने रेल महाप्रबंधक को पत्रक भेजा

कुशीनगर. रामकोला क्षेत्र के अनेक यात्रियों , नागरिक संगठनों और विभिन्न राजनीतिक दलों के सदस्यों ने एक संयुक्त पत्रक मेंं कप्तानगंज -छपरा रूट से होकर चल रही लखनऊ -छपरा एक्सप्रेस के रामकोला मेंं मिले ठहराव को समाप्त किये जाने को अनैतिक क़दम बताते हुये स्टापेज को तत्काल बहाल करनें के लिये पूर्वोत्तर रेलवे के महा प्रबंधक को पत्रक भेजा है.

पत्रक में लिखा गया है कि कप्तानगंज -थावे-सीवान लाइन के आमान परिवर्तन के बाद इस रूट पर लम्बी दूरी की एक मात्र एक्सप्रेस ट्रेन लखनऊ -छपरा के मध्य चलायी गई और उसका नाम 05065/05066 दिया गया. यह ट्रेन पांच वर्ष से अधिक समय तक चली और इसका ठहराव रामकोला मेंं मिलता रहा परन्तु इस ट्रेन को बन्द कर इसके स्थान पर जो नई ट्रेन 15113/15114 अक्टूबर 11 से चलाई गई है उसका स्टापेज रामकोला मेंं अकारण निरस्त कर दिया गया है.

पत्रक में कहा गया है कि जब रेलवे ने आलोच्य रूट पर किसी अन्य ट्रेन की सुविधा नहीं बढ़ाई तो ऐसी दशा मेंं रामकोला और उसके 10 किलोमीटर परिधि मेंं निवास करनें वाले यात्रियों से प्रदत्त सुविधा को छीना जाना पूरी तरह से अव्यवहारिक है. यद्यपि रेलवे कोई व्यापारिक संस्थान नहीं है फ़िर भी लखनऊ -छपरा ट्रेन का रामकोला मेंं स्टापेज समाप्त कर देने से रामकोला स्टेशन से राजस्व प्राप्ति अक्टूबर माह से आधी से भी कम हो गई है. जब यहां छोटी लाइन हुआ करती थी तब इस रूट से गुजरने वाली गुवाहाटी -लखनऊ 1अप /2डॉऊन का स्टापेज मिला करता था. अब तो रामकोला मेंं विश्व दर्शन केन्द्र हो जाने से दूर दराज़ से हजारों लोग दर्शनार्थ आते -जाते हैं ।

Related posts

सभी सात नगर निकायों का चुनाव कराने के लिए आरओ और एआरओ नियुक्त

मिस्र की सूफी मस्जिद पर आतंकी हमले की कड़ी निंदा, मृतकों के लिए हुई दुआ

सैयद फ़रहान अहमद

पुल की रेलिंग तोड़ते हुई बोलेरो नाले में गिरी , एक की मौत

गोरखपुर न्यूज़ लाइन