समाचार

रोटरी क्लब मिडटाउन ने कैंसर अस्पताल को दी 28,500 डालर की 5 चैनल एमएचडीआर बेरकीथेरेपी मशीन

मशीन को खरीदने में में रोटरी फाउन्डेश, सिडनी  की डॉक्टर शैलजा चतुर्वेदी, उद्यमी अमर तुलस्यानऔर रोटरी के सदस्यों ने किया सहयोग, अब कैंसर का अत्याधुनिक इलाज हो सकेगा

गोरखपुर. कैंसर के जटिल और मॅहगे इलाज को लागत दर पर कर रहे हनुमान प्रसाद पोद्दार कैंसर अस्पताल एवं रिसर्च इन्स्टीट्यूट को रोटरी क्लब गोरखपुर मिडटाउन 5 चैनल एम.एच.डी.आर. बे्रकीथेरेपी मशीन देने जा रहा है जिसकी लागत 28,500 डालर है. रोटरी क्लब गोरखपुर मिडटाउन ने इस मशीन को रोटरी फाउन्डेशन के सहयोग से स्विजरलैण्ड से आयात किया है. इस मशीन की स्थापना से हनुमान प्रसाद पोद्दार कैंसर अस्पताल एवं रिसर्च इन्स्टीट्यूट में कैसर रोगियों का इलाज और बेहतर व सस्ते में हो सकेगा.

इस मशीन का लोकार्पण 20 जनवरी को यूरेशियन फेडरेशन आफ अंकोलोजी, मास्को के संस्थापक तथा मुख्य कार्यकारी वरिष्ठ अंकोलोजी सर्जन डा0 सोमा सुन्दरम सुब्रमनियन द्वारा किया जायेगा.

इस मशीन के माध्यम से एक तार को शरीर के अन्दर डालकर सिर्फ टयूमर को ही केन्द्र में रखकर रेडियेशन किया जा सकेगा जिससे शरीर के अन्य सेल प्रभावित नही होगें . इस प्रकार की उन्नत मशीन टाटा मेमोरियल अस्पताल, मुम्बई तथा कोलकाता जैसे स्थानों पर ही संचालित है । पूर्वांचल के गरीब व वंचितों के लिए कैंसर के अवसाद को झेलते हुए इलाज हेतु बडे़ शहरों में बार-बार जाना एवं महॅगें इलाज को बर्दाश्त करना प्रायः मुमकिन नहीं होता. रोटरी क्लब गोरखपुर मिडटाउन की इस पहल के बलबूते अब ऐसे अत्याधुनिक इलाज की सुविधा स्थानीय हनुमान प्रसाद पोद्दार कैंसर अस्पताल एवं शोध संस्थान में अत्यन्त रियायती दर पर उपलब्ध होगी.

रोटरी मिडटाउन के प्रोजेक्ट निदेशक एवं पूर्व सहमंडलाध्यक्ष रो0 नितेन अग्रवाल, कैसर अस्पताल के सचिव उमेश सिंहानिया और संस्थान के सह सचिव रसेन्दु फोगला ने बताया कि हनुमान प्रसाद पोद्दार कैंसर अस्पताल एवं रिसर्च इन्स्टीट्यूट 38 वर्षो से कैंसर का इलाज कर रहा है. प्रत्येक वर्ष यहा लगभग 2000 से ज्यादा कैंसर के मरीजो का लिनियक एवं कोबालट आदि मशीनों से इलाज होता है.

तीनों पदाधिकारियों ने बताया कि इस मशीन के स्थापित होने में भाई जी श्री हनुमान प्रसाद पोद्दार एवं राधा बाबा की शिष्या डा0 शैलजा चतुर्वेदी ( मानसिक रोग विशेषज्ञ सिडनी, आस्ट्रेलिया) का वृहद् योगदान है. इसके साथ ही नगर के युवा उद्यमी व सामाजिक कार्यक्रमों में पहचान रखने वाले रो0 अमर तुलस्यान की कम्पनी ‘नाइन सैनीटरी नैपकीन ‘ की ओर से सी.एस.आर. का योगदान ने मशीन के स्विजरलैण्ड से आयात में महत्वपूुर्ण भूमिका निभाई.

मशीन के स्थापित होने में रोटरी के सदस्यों विशेषकर-अशोक मोदी, विजय प्रकाश अग्रवाल, संजय रामरायका, राज कुमार बथवाल, ज्ञानेश्ववर दास, नीलमणी सिंहानिया, मनोज बंका, मनोज मातनहेलिया, दीपक कारीवाल, मनोज टिबडेेवाल, पीयूष गंगा सराफ, आलोक अग्रवाल, विष्णु गोयन्का, काशीपुर एवं सुनील चतुर्वेदी लखनऊ का योगदान उल्लेखनीय है ।

सचिव रो0 सुधीर अग्रवाल ने बताया कि मशीन के लिए रोटरी फाउन्डेशन ने अपनी ‘ग्लोबल ग्रान्ट‘ की संस्तुति से पूर्व अनेक प्रकार की सकारात्मक जाॅच किया जिसमें समय समय पर संस्था के पूर्व मंडलाध्यक्ष रो0 डा0 प्रमोद कुमार तथा रो0 रंजीत सिंह का भरपूर सहयोग मिला तथा मंडलाध्यक्ष रो0 स्तुति अग्रवाल ने डी0डी0एफ0से नीयत 20000 डालर का मैचिंग देकर ‘ग्लोबल ग्रान्ट‘ का दावा मजबूत किया ।

Related posts

ईद-उल-अज़हा : अल्लाह की राह में पेश की गयी कुर्बानी, अदा की नमाज

पीपीगंज में शार्ट सर्किट से लगी केनरा बैंक में भीषण आग, कई लाख के उपकरण खाक

बलरामपुर और सिद्धार्थनगर जिले की 10 में से सिर्फ दो सीटों पर भाजपा की जीत