स्वास्थ्य

पल्स पोलियो अभियान : गोरखपुर में 2228 और महराजगंज में 1368 बूथ पर बच्चों को पिलायी गई दवा

गोरखपुर. चरगांवा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर जिला प्रतिरक्षण अधिकारी (डीआईओ) व अपर मुख्य चिकित्साधिकारी (एसीएमओ) डा. आईवी विश्वकर्मा और ब्लाक प्रमुख सुनील पासवान ने साढ़े तीन वर्षीय सुरभि को दवा पिला कर जनपद में पल्स पोलियो अभियान का उद्घाटन किया। डेढ़ वर्षीय मिस्टी, दो वर्षीय रुही और एक वर्षीय अनाया को भी अभियान के शुभारंभ के अवसर पर पोलियो की दवा पिलायी गयी। सोमवार से पूरे जनपद में घर-घर भ्रमण कर पल्स पोलियो की दवा पिलाई जाएगी।

एसीएमओ ने बताया कि कुल 3884 लोगों की टीम घर-घर भ्रमण कर शून्य से पांच वर्ष के बच्चों को दवा पिलाएंगी। कुल 2228 बूथों पर पहले दिन दवा पिलायी गयी। इनमें 305 ट्रांजिट और 30 सचल बूथ भी शामिल हैं। रेलवे स्टेशनों पर 25, मुख्य बस अड्डों पर 18 जबकि ईंट भट्ठों पर 485 ट्रांजिट टीम बच्चों को दवा पिला रही हैं। ब्लाक प्रमुख सुनील पासवान ने कहा कि अभियान में समुदाय का पूरा सहयोग सुनिश्चित कराया जाएगा। सरकार के प्रयासों से लोगों में काफी जागरूकता आई है और इसी वजह से पोलियो का उन्मूलन संभव हो सका है।

प्रभारी चिकित्साधिकारी डा. धनंजय कुशवाहा, उप जिला स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी सुनीता पटेल, स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी मनोज कुमार, पूर्व जिला पंचायत सदस्य रामवृक्ष यादव, पूर्व ब्लाक प्रमुख रामआसरे निषाद, पूर्व पार्षद महेश पासवान, डब्ल्यूएचओ से डा. गोस्वामी, यूनीसेफ से संदीप श्रीवास्तव, मनोज श्रीवास्तव, गवासुद्दीन, यूएनडीपी से राजीव रंजन, पवन ने भी बच्चों को पल्स पोलियो का ड्राप पिलाया। इस अवसर पर मनीष सिंह, बलराम समेत पीएचसी के सभी संबंधित कर्मचारी मौजूद रहे।

अभिभावक बोले
पल्स पोलियो की दवा पिलाने बूथ पहुंचे बच्चों के अभिभावक लोकेंद्र, चित्रा, मनीष और आरसी लाल श्रीवास्तव ने बताया कि वे अपने बच्चों को नियमित पोलियो का दवा पिलाते हैं। इस टीके का कोई बुरा असर नहीं पड़ता है और सभी अभिभावकों को अपने बच्चों को यह दो बूंद जिंदगी की अवश्य पिलानी चाहिए।

  • अभियान पर एक नजर
    कुल लक्षित बच्चे-6.77 लाख
    नियमित बूथ-1891
    ट्रांजिट बूथ-305
    सचल बूथ-30
    बूथकर्मी-4452
    टीमकर्मी-3884
    पर्यवेक्षक-503

 

महराजगंज जिला में  सदर विधायक जयमंगल कन्नौजिया ने संयुक्त जिला अस्पताल में बच्चों को पोलियो की ड्राप पिलाकर पल्स पोलियो अभियान का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि सभी लोग अपने बच्चों को पोलियो ड्राप जरूर पिलाएं ताकि अपने देश में पोलियो जैसी बीमारी पनपने न पाएं।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाक्टर क्षमा शंकर पांडेय ने पल्स पोलियो अभियान में लगे कर्मियों को निर्देशित किया कि कोई भी बच्चा पोलियो ड्राप पीने से वंचित न रहने पाए।

जिले में करीब 4.40 लाख बच्चों को पोलियो की खुराक पिलाई जानी है। इसके लिए कुल 1368 बूथ बनाए गए हैं। इस अभियान में कुल 3750 कर्मचारी लगाए जाएंगे। जिसमें आशा, आंगनबाङी व स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी सम्मिलित हैं।
बूथों पर ड्राप पीने से वंचित बच्चों को पोलियो ड्राप पिलाने के लिए टीम सोमवार से घर-घर जाएगी। इसके लिए 883 टीम गठित की गई है।


टीकाकरण अधिकारी/ डिप्टी सीएमओ डाक्टर आईए अंसारी ने बताया कि पोलियो ड्राप पिलाने के लिए शहरी क्षेत्र में 48 तो ग्रामीण क्षेत्रों में 1320 पोलियो बूथ बनाए गए हैं।
कार्यक्रम में संयुक्त जिला अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डाक्टर आरबी राम , यूनिसेफ के जिला समन्वयक संतोष श्रीवास्तव, स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी श्रीभागवत सिंह आदि मौजूद रहे।

Related posts

महराजगंज में 54470 और देवरिया में 68636 बच्चों को लगेगा जेई से बचाव का टीका

निजीकरण की वकालत करती है नयी स्वास्थ्य नीति

लक्ष्य से अधिक बच्चों ने पी पोलियो की खुराक