समाचार

गोरखपुर जिले में कोरोना का कोई संदिग्ध नहीं-डीएम

विदेश से आने वाले सभी लोगों की हो रही है निगरानी-सीएमओ

गोरखपुर. जिलाधिकारी के. विजयेंद्र पांडियन ने कहा है कि जनपद में कोरोना का कोई संदिग्ध मरीज फिलहाल नहीं है। जनपद के लोगों को घबराने की बिल्कुल आवश्यकता नहीं है। सभी के सेहत की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम शासन से प्राप्त दिशा-निर्देशों के अनुसार किये जा रहे हैं।

मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. श्रीकांत तिवारी ने कहा है कि जनपद में जितने लोग विदेशों से आए हैं वह सभी विभाग की निगरानी में हैं। विदेश से आए लोगों से कहा गया है कि वह अपने घर से बाहर न निकलें और घर के भीतर ही एकांतवास में रहें।

डीएम और सीएमओ ने अपील की है कि बीमारी के बारे में किसी भी प्रकार का अफवाह न फैलाएं। अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ विधिक कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने बताया कि सर्दी, जुकाम और खांसी से पीड़ित लोगों को अनायास घबराने की आवश्यकता नहीं है। अगर किसी को यह दिक्कत है और वह हाल-फिलहाल में विदेश नहीं गया था या उसके परिवार या संपर्क में रहने वाला कोई व्यक्ति विदेश नहीं गया था अथवा वह या उसके संपर्क का कोई व्यक्ति कोरोना पीड़ित के संपर्क में न रहा हो तो वह बेफिक्र होकर प्रशिक्षित चिकित्सक से अपना इलाज करवा सकता है।

12 टीमे हैं मुस्तैद

सीएमओ ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना से निपटने के लिए पुख्ता कार्ययोजना तैयार कर लिया है। 12 अलग-अलग टीम जिला स्तर पर गठित की गई हैं जो प्रशिक्षण, सर्विलांस, जागरूकता, शंका-समाधान ई. कार्यों में अपन-अपनी भूमिका का निर्वहन कर रहे हैं।

सावधानी ही बचाव

· एक दूसरे से एक मीटर की दूरी पर रहें।

· खांसते, छींकते समय रूमाल या टीश्यू पेपर का इस्तेमाल करें।

· हाथों को साफ-सुथरा रखें। सेनेटाइजर का इस्तेमाल करें या फिर साबुन से हाथ धोएं।

· नाक, मुंह और आंख को हाथों से न छूएं।

· कोई शंका हो तो जिले में बने कंट्रोल रूम के नंबर 0551-2205145 पर सुबह 8 से रात 8 के बीच सम्पर्क करें।

· अति आवश्यक होने पर सीएमओ के सीयूजी नंबर 8005192660 पर संपर्क कर सकते हैं। सिर्फ सर्दी, जुकाम या बुखार होने पर अनावश्यक फोन करने से बचें। निकटतम चिकित्सक से संपर्क कर सकते हैं।

· भीड़भाड़ से बचें और बहुत आवश्यक न हो तो घर में ही रहें।

प्रशासन द्वारा किये गये इंतजाम

· जिला अस्पताल और प्रत्येक सीएचसी-पीएचसी पर सर्दी, जुकाम के मरीजों के लिए अलग ओपीडी का इंतजाम है।

· सभी प्रभारी चिकित्साधिकारी, स्वास्थ्य शिक्षा अधिकारी और चिकित्साकर्मी प्रशिक्षित किये जा चुके हैं।

· कुल 09 एलईडी वैन के जरिये कोरोना संबंधित प्रचार प्रसार हो रहा है। आशा-आंगनबाड़ी कार्यकर्ता घर-घर जाकर लोगों को बीमारी के बारे में सचेत कर रही हैं।

· अगर कोई संदिग्ध केस मिलता भी है तो उसके लिए पर्याप्त क्ववेरेंटाइंटन वार्ड का इंतजाम है। सभी संबंधित सरकारी कार्यालयों को भी संवेदीकृत किया जा चुका है।

4 एलईएडी वैन रवाना

दस्तक अभियान के तहत कोरोना वायरस और जेई-एईस बीमारी के प्रति जागरूक करने के लिए सीएमओ कार्यालय से गुरूवार को 4 अलग-अलग एलईडी वैन रवाना की गयी। एसीएमओ डॉ. आईबी विश्वकर्मा
और डॉ. नीरज कुमार पांडेय ने वैन को हरी झंड़ी दिखा कर रवाना किया। जिला स्वास्थ्य, शिक्षा एवं सूचना अधिकारी केएन बरनवाल ने बताया कि यह वैन निर्धारित गांवों में जाकर लोगों को जागरूक करेंगी।

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz