Gorakhpur NewsLine

महानगर कांग्रेस अध्यक्ष सहित चार नेता गिरफ़्तार , बिना अनुमति प्रदर्शन व पीएम की होर्डिंग पर कालिख पोतने का आरोप

गोरखपुर। पेट्रोलियम पदार्थों के दाम में वृद्धि के खिलाफ प्रदर्शन करने पर कांग्रेस के चार नेताओं को  गिरफ़्तार कर पुलिस ने जेल भेज दिया है। पुलिस का आरोप है कि कांग्रेस नेताओं ने प्रधानमंत्री के होर्डिंग पर कालिख पोत दी। पुलिस ने कांग्रेस के महानगर अध्यक्ष सहित 14 नेताओं के खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा डालने, तोड़फोड़, बिना अनुमति जुलूस निकालने, आवागमन बाधित करने आदि का आरोप लगाते हुए धारा 186, 7 क्रिमिनल ला एमेंडमेंट एक्ट, धारा 144 के तहत केस दर्ज किया है। कांग्रेस नेताओं की गिरफ़्तारी के खिलाफ बड़ी संख्या में कांग्रेस नेता व कार्यकर्ता कोतवाली पहुंच गए और वहां प्रदर्शन किया।

महानगर कांग्रेस अध्यक्ष आशुतोष तिवारी के नेतृत्व में कांग्रेस नेताओं व कार्यकर्ताओं ने सोमवार को बेतियाहाता के एक पेट्रोल पम्प के सामने धरना-प्रदर्शन किया। धरना-प्रदर्शन के बाद वहां आए कुछ लोगों ने प्रधानमंत्री की होर्डिंग पर कालिख पोत दी। पुलिस का कहना है कि यह काम कांग्रेस नेताओं ने किया। बाद में पुलिस ने कांग्रेस के महानगर अध्यक्ष आशुतोष तिवारी को उनके कार्यालय से तथा यूथ कांग्रेस के जिलाध्यक्ष अभिजीत पाठक, यूथ कांग्रेस के प्रदेश महासचिव सुमित पांडेय और अनुसूचित मोर्चा के प्रदेश सचिव अमित कुमार को अलग-अलग स्थानों से गिरफ़्तार कर लिया।

कांग्रेस नेताओं की गिरफ़्तारी की सूचना मिलने पर कांग्रेस के प्रदेश महासचिव विश्वविजय सिंह, पूर्व महानगर अध्यक्ष अरूण कुमार अग्रहरि, राकेश यादव, पूनम मिश्र, रोहन पांडेय, श्यामशरण श्रीवास्तव, दिलीप कुमार निषाद, साहिल विक्रम तिवारी, प्रेमलता चतुर्वेदी सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस कोतवाली पहुंच गए और कांग्रेस नेताओं की रिहाई की मांग करते हुए प्रदर्शन किया।
पुलिस ने गिरफ़्तार चार नेताओं को जेल भेज दिया है। पुलिस ने कुल 14 कांग्रेस नेताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है।

Exit mobile version