स्वास्थ्य

गोरखपुर में 5.67 लाख लोगों को लगी टीके की पहली डोज, 28 लाख लोगों का होना है टीकाकरण

गोरखपुर। जिले में टीकाकरण की गति बढ़ाने के लिए उपलब्ध टीम बढ़ाई जाएंगी। इस संबंध में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुधाकर पांडेय ने सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) के अधीक्षकों और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (पीएचसी) के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश दिया है। निर्देश में कहा गया है कि प्रत्येक ब्लॉक में अभी 10 टीम कार्य कर रही हैं। इनके अतिरिक्त 10 टीम और बनायी जाएं और सभी को प्रशिक्षित किया जाएगा।

गोरखपुर जिले में 18 वर्ष से अधिक उम्र के 5.67 लाख लोगों को टीके की पहली डोज लग चुकी है। विभागीय आंकलन के मुताबित कुल 28 लाख लोगों का टीकाकरण होना है।

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. नीरज कुमार पांडेय ने बताया कि एक टीकाकरण टीम तीन लोगों की होगी। जिले में कुल 21 सीएचसी, नौ पीएचसी, 57 एडिशनल पीएचसी, 23 अर्बन हेल्थ पोस्ट, 530 एएनएम सब सेंटर और पांच विशेष अस्पताल हैं। ग्रामीण क्षेत्रों की सीएचसी, पीएचसी, एपीएचसी और एएनएम सब सेंटर जिले के 19 ब्लॉको के अंतर्गत आते हैं। जुलाई माह में कलस्टर अप्रोच के साथ प्रस्तावित टीकाकरण अभियान के लिए स्वास्थ्य इकाई के अंतिम पायदान तक जाकर सेवाएं दी जानी हैं जिनके लिए अतिरिक्त टीकाकरण टीम की आवश्यकता होगी। इसे देखते हुए टीम बढ़ाने और उसे प्रशिक्षित करने का निर्णय लिया गया है। अतिरिक्त टीम यथाशीघ्र प्रशिक्षण प्राप्त कर टीकाकरण में योगदान देगी।

टीकाकरण की स्थिति

सहायक शोध अधिकारी के. पी. शुक्ला का कहना है कि 18 से 44 आयु वर्ग में जिले में करीब 1.58 लाख लोगों ने कोविड टीके की पहली डोज ली है। 45 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के करीब चार लाख लोग टीके की पहली डोज ले चुके हैं। इस आयु वर्ग के 88, 436 लोग टीके की दूसरी डोज भी ले चुके हैं। 18 वर्ष से अधिक के सभी आयुवर्ग के करीब एक लाख लोग टीके की दोनों डोज ले चुके हैं। सभी को दूसरी डोज देने और कलस्टर लेवल पर अभियान चलाने के लिए अतिरिक्त टीम की आवश्यकता होगी।

 

About the author

गोरखपुर न्यूज़ लाइन

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz