समाचार

शिक्षकों, शिक्षा मित्रों,अनुदेशकों, रसोइयों ने 21 सूत्री मांगों को लेकर धरना-प्रदर्शन किया 

गोरखपुर। उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रांतीय नेतृत्व के आह्वान पर पूरे प्रदेश में शिक्षक,शिक्षामित्र, अनुदेशक,आंगनबाड़ी कार्यकत्री, सहायिका, रसोइया ने बीआरसी पाली पर एक दिवसीय धरना प्रदर्शन का किया।

धरना-प्रदर्शन की अध्यक्षता अध्यक्षता शिक्षक संघ के ब्लाक अध्यक्ष विपिन बिहारी दूबे व संचालन ब्लाक मंत्री व जिला संगठन मंत्री कुलदीप सिंह ने किया ।

उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के 21 सूत्रीय मांगों के समर्थन में संयुक्त रूप से शिक्षक,शिक्षामित्र, अनुदेशक,आंगनबाड़ी कार्यकत्री, सहायिका, रसोइया ने भारी संख्या में बीआरसी पाली पर जुटकर अपनी संख्या बल का एहसास कराते हुए अपनीं मांगो को जोरदार तरीके से रखा।

धरना-प्रदर्शन के बाद पुराने पेंशन की बहाली,  कैश लेस चिकित्सा , एसीपी , उपार्जित अवकाश एवं द्वितीय शनिवार अवकाश, छात्रों को बैठने हेतु फर्नीचर , बिजली , पंखे , पीने का शुद्ध पानी एवं विद्यालय की चाहर दीवारी, प्रत्येक कक्षा पर अध्यापक , प्रत्येक विद्यालय में प्रधानाध्यापक , लिपिक , चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी एवं चौकीदार,  शिक्षकों के अन्तःजनपदीय एवं अन्तर्जनपदीय ( आकांक्षी जनपद सहित ) स्थानान्तरण, संविलियन निरस्तकर, शिक्षकों को पदोन्नति,ऑनलाईन कार्य के नाम पर शिक्षकों का शोषण बन्द करने,  17140 व 18150 की विसंगति दूर करने, सभी शिक्षकों को प्रोन्नत वेतनमान ,सेवानिवृत्त शिक्षकों / पेंशनर्स की समस्याओं का निराकरण, सभी शिक्षामित्र , अनुदेशक , विशेष शिक्षक एवं कस्तूरबा गाँधी बालिका विद्यालयों के शिक्षकों को स्थाई शिक्षक बनाने ,  सभी रसोईयों को स्थाई एवं प्रतिमाह रुपये 10,000 मानदेय करने, ऑगनवाड़ी सहायिका को 10,000 और आँगनवाड़ी कार्यकत्री को ₹ 15,000 प्रति माह मानदेय करने, परिवार नियोजन प्रोत्साहन भत्ता , नगर प्रतिकर भत्ता बहाल करने एवं महंगाई भत्ते का एरियर करने , सामूहिक बीमा की धनराशि रुपये दस लाख करने , वार्षिक प्रविष्टि का शासनादेश वापस लेने, उ0 प्र0 शिक्षा सेवा अधिकरण विधेयक 2021 को वापस लेने, दिवंगत शिक्षकों के परिवारों को ग्रेच्युटी का भुगतान करने, दिवंगत शिक्षकों के आश्रितों को टी0ई0टी 0 से मुक्ति, दिवंगत शिक्षकों के आश्रितों को लिपिक के अधिसंख्य पदों पर नियुक्ति, कोरोना महामारी एवं पंचायत निर्वाचन के दौरान दिवंगत शिक्षक,शिक्षामित्र एवं अनुदेशकों के परिवारों को एक करोड़ रुपये का मुआवजा तथा दिवंगत शिक्षामित्र , अनुदेशक एवं विशेष शिक्षकों के आश्रित को नौकरी देने का मांगपत्र बेसिक शिक्षा सचिव को मेल किया गया।

धरने को संबोधित करते हुए ब्लाक अध्यक्ष विपिन बिहारी दूबे ने कहा जिस समाज में अध्यापक कमजोर व प्रताड़ित होगा उस समाज का परिवर्तन नहीं हो सकता सामूहिक कार्य के लिए संगठन की आवश्यकता होती है। शिक्षामित्रों की पीड़ा बहुत ही दुखदाई है। यह सिर्फ उत्तर प्रदेश में ही है । सरकार चाही होती तो ट्रेंड वेतनमान देकर एक सम्मानजनक स्थिति में रख सकती थी लेकिन शासन की मंशा इनके प्रति ठीक नहीं है। अब इनकी लड़ाई अपनी मानकर साथ साथ लड़ेंगे। समान कार्य समान वेतन होना चाहिए। भविष्य में आगामी दिनों में होने वाले आंदोलन के चरणबद्ध कार्यक्रम में उपस्थित होने की अपील करते हैं।

 

उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षामित्र संघ के जिला अध्यक्ष रामनगीना निषाद ने कहा सबसे समन्वय स्थापित कर लड़ाई लड़ना होगा तभी कामयाबी मिलेगी। इसके लिए उन्होंने प्रदेश प्राथमिक शिक्षा मित्र संघ के प्रदेश अध्यक्ष शिव कुमार शुक्ला के प्रति आभार जताया कि उन्होंने उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष दिनेश चंद शर्मा से समन्वय स्थापित कर एक साथ लड़ाई लड़ने का फैसला लिया। इसका हम सभी शिक्षामित्र स्वागत करते हैं।

कार्यक्रम को अनुदेशक संघ से जिला कोषाध्यक्ष करुणेश भट्ट , शिक्षक संघ के उपाध्यक्ष मारकंडेश्वर नाथ चौबे, मनीराम यादव, जनार्दन धर दुबे व शिक्षामित्र संघ के जिला उपाध्यक्ष अविनाश कुमार ने कहा समाज में शिक्षकों को बदनाम करने की साजिश चल रही है शिक्षकों को इससे सतर्क रहने की आवश्यकता है। सभी मतभेदों को भुलाकर सब को एक मंच पर आकर अपने मांगों के समर्थन में आवाज बुलंद करना होगा तभी हम यह लड़ाई जीत सकते हैं।

धरना में विजय कुमार मिश्र वरिष्ठ उपाध्यक्ष पाली, कनीज फातमा, प्रभाकर सिंह,निसात फातमा, अमरीश प्रताप, श्रवण कुमार, आलोक मिश्रा, कपिल देव यादव, दिलीप भारती, मानसा पांडेय, अनुप्रिया श्रीवास्तव ,पूनम ,बिना यादव, पूर्णिमा सिंह, अंजली सिंह, इसरावती ,लक्ष्मी ,अंजनी यादव, सीमा देवी, लालधर निषाद, संतोष कुमार सिंह, शिवाकांत त्रिपाठी ,प्रभाकर मिश्रा, अजय कुमार मिश्रा, आदि शिक्षक, शिक्षामित्र, रसोईया, आंगनबाड़ी कार्यकत्री व सहायिका उपस्थित रहे ।

About the author

गोरखपुर न्यूज़ लाइन

Leave a Comment

aplikasitogel.xyz hasiltogel.xyz paitogel.xyz