Templates by BIGtheme NET
Home » जनपद » वार्ड नं. 66 मुफ्तीपुर में सपा महानगर अध्यक्ष के सामने सिर्फ तीन प्रत्याशी
नगर निगम गोरखपुर
नगर निगम गोरखपुर

वार्ड नं. 66 मुफ्तीपुर में सपा महानगर अध्यक्ष के सामने सिर्फ तीन प्रत्याशी

गोरखपुर, 21 नवम्बर. वार्ड नं. 66 मुफ्तीपुर अनारक्षित सीट है। यहां मात्र 4 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं। यहां से सपा के निवर्तमान पार्षद व पूर्व उपसभापति जियाउल इस्लाम कई बार से जीत हासिल करते चले रहे हैं। इस बार भी जीत हासिल करने के ख्वाहिशमंद हैं। वह इस समय सपा महानगर अध्यक्ष के पद पर हैं।

भाजपा से टिकट मांग रहे प्रत्याशी ने कांग्रेस का दामन थाम टिकट हासिल किया हैं। ओवैसी की पार्टी ने यहां से अपना प्रत्याशी उतारा है। कुल मिलाकर भाजपा, कांग्रेस, एआईएमआईएम की सीधी लड़ाई सपा महानगर अध्यक्ष से है। भाजपा वोटों के ध्रुवीकरण से जीत हासिल करने की जुगत में है जबकि सपा प्रत्याशी वार्ड में विकास के नाम पर वोट मांग रहे हैं। बसपा, आप व पीस पार्टी ने यहां से प्रत्याशी नहीं उतारा है। कुल मिलाकर यहां मुकाबला आमने सामने का है।

कुल आबादी –  12636
कुल मतदाता – 9260
पुरुष – 4844
स्त्री – 4416
कुल प्रत्याशी – 4
मुस्लिम प्रत्याशी – 2

वार्ड की समस्या
अतिक्रमण, जलजमाव, जाम, टूटी सड़के, साफ-सफाई का अभाव, गंदगी, पेयजल,  खस्ताहाल जलनिकासी ।

मियां बाजार वार्ड में आठ प्रत्याशियों के बीच मुकाबला

वार्ड नं. 52 मियां बाजार अनारक्षित सीट है। यहां 8 प्रत्याशी चुनाव लड़रहे है जिसमें से दो मुस्लिम है,  और दोनों सपाई हैं। एक तो भूतपूर्व पार्षद भी रह चुके हैं। सपा ने भूतपूर्व पार्षद पर भरोसा जताया तो दूसरे सपाई ने निर्दल ही मैदान में उतरने का फैसला लिया। यहां से सपा के पूर्व पार्षद ने भाजपा ज्वाइन करके टिकट मांगा लेकिन टिकट नहीं मिला। भाजपा ने दूसरे को टिकट दे दिया लेकिन पूर्व पार्षद ने उफ तक नहीं की। यहां मुस्लिम आबादी ठीक-ठाक फीसद में हैं। जो चुनाव परिणाम का रुख मोड़ने में सक्षम हैं। यहां से भाजपा, सपा के साथ कांग्रेस, बसपा, आप भी मैदान में है। आप प्रत्याशी ने पिछले चुनाव में अन्य पार्टी से चुनाव लड़कर पांचवा स्थान पाया था।
कुल आबादी –  15636
कुल मतदाता – 10989
पुरुष – 6587
स्त्री – 4402
कुल प्रत्याशी – 8
वार्ड की समस्या -यहां नालों की सफाई कभी-कभार होती हैं। वाटर सप्लाई भी खस्ताहाल हैं। जाम, अतिक्रमण, जलजमाव के अलावा  क्षतिग्रस्त सड़कें, गंदगी, खस्ताहाल जलनिकासी, बारिश में जलजमावआदि, नालियों का पानी सड़कों पर बहना.

About गोरखपुर न्यूज़ लाइन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*