समाचार

बीआरडी के जूनियर डॉक्टरों ने प्रदर्शन कर डॉ. सतीश कुमार और डॉ. राजीव मिश्र को रिहा करने की मांग की

गोरखपुर। बीआरडी मेडिकल कालेज में अगस्त 2017 में हुए ऑक्सीजन हादसे के बाद सोमवार को पहला मौका था जब आरोपी डॉक्टरों डा. सतीश कुमार व पूर्व प्राचार्य डॉ. राजीव मिश्रा के समर्थन में मेडिकल कालेज के जूनियर डाक्टरों ने न केवल शांतिपूर्ण प्रदर्शन किया बल्कि मार्च भी निकाला और डॉ. सतीश कुमार व डॉ. राजीव मिश्रा के रिहाई की पुरजोर मांग भी उठाई।
protest march_brd medical college 4
सुबह मेडिकल कालेज परिसर में 50-60 जूनियर डॉक्टरों ने प्रदर्शन किया और कालेज के मुख्य द्वार तक मार्च निकाला। सभी के हाथों में रिहाई के मांग की तख्तियां थीं।

protest march_brd medical college 5

जूनियर डाक्टरों के साथ डा. सतीश कुमार की पत्नी अनीता रैन व उनके परिवार के अन्य सदस्य मौजूद रहे। प्रदर्शन के दौरान अनीता के आंसू थम नहीं रहे थे। मीडिया से बात करते हुए भी वह लगातार रो रही थीं और उनकी सिसकियां निकल रही थीं।

protest march_brd medical college 2

उन्होंने कहा कि मेरे पति आठ माह से जेल में हैं। हमारा परिवार बर्बाद हो गया है। हम लोग बहुत परेशान है। प्लीज उनको रिहा किया जाए। वह बहुत सज्जन इंसान है। उन पर कई आरोप लगे है जो निराधार है। वह हादसे के दौरान छुट्टी पर थे और वह ऑक्सीजन प्रभारी भी नहीं थे। जो भी आरोप लगाया गया है वह गलत है। उन्हें फंसाया गया है।
protest march_brd medical college
ऑक्सीजन सप्लायर मनीष भंडारी व डॉ. कफील अहमद खान की रिहाई के बाद बीआरडी मेडिकल कालेज में भी आखिर डॉक्टरों के समर्थन में लगातार आवाज उठ रही है.

इससे सम्बन्धित खबरे पढने के लिए ये लिंक देखें

आक्सीजन हादसा: जेल में बंद दलित डाॅक्टर जिसके लिए नहीं है कोई आवाज उठाने वाला

 

 

आक्सीजन हादसा : जेल में बंद आरोपियों के परिवार की व्यथा कथा

About the author

सैयद फरहान अहमद

सिटी रिपोर्टर , गोरखपुर

Skip to toolbar