Templates by BIGtheme NET
Home » विचार (page 5)

विचार

तीन तलाक,समान नागरिक संहिता और मोदी सरकार

logo_gorakhpur-news-line-2

जावेद अनीस समान नागरिक संहिता (यूनिफार्म सिविल कोड) स्वतंत्र भारत के कुछ सबसे विवादित मुद्दों में से एक रहा है. वर्तमान में केंद्र की सत्ता पर काबिज पार्टी और उसके पितृ संगठन द्वारा इस मुद्दे को लम्बे समय से उठाया जाता रहा है . यूनिफार्म सिविल कोड को लागू कराना उनके हिन्दुतत्व के एजेंडे का एक प्रमुख हिस्सा है. इसीलिए ...

Read More »

‘ मानसिक आपातकाल ’ में जिंदगी

10a0395f-14c5-4ad4-85dc-1ca891cbbd1f

नासिरुद्दीन वरिष्ठ पत्रकार हमने ध्यान दिया होगा. हमारे साथ जब अचानक कुछ होता है, तो दिमाग अलर्ट कर देता है. जैसे- कोई मारने के लिए हाथ उठाता है, तो हम झटके से बचने की कोशिश करते हैं या उसका हाथ पकड़ लेते हैं. कोई हिंसक जानवर हमारी ओर दौड़ता है, तो अपने आप बचने के लिए मुस्तैद हो जाते हैं. ...

Read More »

नोटबंदी : कौन हैं जो चैन से हैं ?

10a0395f-14c5-4ad4-85dc-1ca891cbbd1f

नासिरूद्दीन: देश भर में ऐसी बेचैनी, अफरातफरी, परेशान हाल लोग ज़माने बाद एक साथ सड़कों पर दिख रहे हैं। ये किसी पार्टी के ‘बहकावे’ या ‘बुलावे’ पर घरों से नहीं निकले हैं। ये आंदोलन नहीं कर रहे हैं, वे अपनी मेहनत की कमाई को सहेजने के लिए निकले हैं। अपनी ही पूंजी को लेने भोर से शाम तक डटे हैं ताकि ...

Read More »

तीस साल पहले और अब !

muslim votar

नासिरुद्दीन (वरिष्ठ पत्रकार) एक दानिश्वर की मशहूर लाइन है- जो इतिहास भूल जाते हैं, वे इसे दोहराने की गलती करते हैं. इतिहास में तीस साल, लंबा वक्त नहीं होता है. फिर भी लगता है कि हम बहुत जल्दी भूलने के आदी हो गये हैं. नतीजतन, बुरे वक्त को दोहराने की गलती करते रहते हैं. फिर वैसा ही माहौल बनाने की ...

Read More »

बीसीसीआई के गले में सुप्रीम कोर्ट की घंटी

lodha-committee

जावेद अनीस भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने लोढ़ा समिति की सिफारिशों को सही ठहराने के कोर्ट के फैसले को लेकर जो पुनर्विचार याचिका दायर की थी उसे सुप्रीम कोर्ट द्वारा ठुकरा दिया गया है. अदालत ने सिफारिशों को लागू करने में टाल-मटोल को लेकर भी बीसीसीआई को फटकार लगाई है. कोर्ट का यह रुख बीसीसीआई के लिए बड़ा झटका है और ...

Read More »

बार्डर पर बाजार

kapilvastu-border

मेरा गांव मेरा देश -1 मनोज कुमार सिंह 6 अक्तूबर को सिद्धार्थनगर जाने का मौका मिला। सिद्धार्थनगर प्रेस क्लब के नव निर्वाचित पदाधिकारियों के शपथ ग्रहण समारोह में शिरकत करना था। कार्यक्रम समाप्त होने के बाद वरिष्ठ पत्रकार एवं कपिलवस्तु पोस्ट के सम्पादक नजीर मलिक के साथ कपिलवस्तु चल पड़े। सिद्धार्थनगर कई बार आना हुआ लेकिन जिले का यही कोना ...

Read More »

नये मिजाज का शहर

gorakhpur-city

स्वदेश कुमार सिन्हा कोई हाथ भी न मिलायेगा , जो गले मिलोगे तपाक से ये नये मिजाज का शहर है जरा फासले से मिला करो। बशीर बद्र एक मित्र करीब एक दशक बाद नगर मेें पधारे तथा यहाॅ का विकास देखकर चकित रह गये। बड़े -बड़े फ्लाई ओवर , शानदार शापिंग माल्स , मल्टी प्लेक्स,  सिनेमाहाल, रामगढ़ताल बनता पर्यटन केन्द्र ...

Read More »

घटता निर्यात और बढ़ती बेरोजगारी

javed pic

जावेद अनीस पिछले लोकसभा चुनाव के दौरान नरेंद्र मोदी ने हर साल 2.5 करोड़ नौकरी देने का वादा किया था लेकिन अभी तक ऐसा हो नहीं पाया है और नौकरियाँ बढ़ने के बजाये घट रही हैं. इसके पीछे का मुख्य कारण निर्यात क्षेत्र में लगातार आ रही कमी को बताया जा रहा है.निर्यात के क्षेत्र में  पिछले अगस्त में ही ...

Read More »

संस्कृति में विभेद की सीमा रेखा तय करना आज के समय में बहुत कठिन: प्रो0 आर0सी0 मिश्र

20_04_2016-ddugu_g_200416

दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के मनोविज्ञान विभाग में प्रो0 एल0बी0 त्रिपाठी स्मृति व्याख्यान एवं द्विदिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी गोरखपुर , 15 सितम्बर। ‘ संस्कृति मानव जीवन में नवाचार, भिन्नताओं, बाह्य हस्तक्षेपों और आंतरिक परिवर्तनों से समवेत प्रभावित होती है। वर्तमान समय में मानव व्यवहार पर संस्कृति के हस्तक्षेप को समग्रता से स्वीकार किया जाने लगा है जिसके कारण सांस्कृतिक मनोविज्ञान की शाखा ...

Read More »

मुजफ्फरनगर के पीड़ितों की स्थिति 2002 के गुजरात हिंसा पीड़ितों जैसी- हर्ष मंदर

harsh-mandar

मुजफ्फरनगर साम्प्रदायिक हिंसा की चौथी बरसी पर रिहाई मंच ने किया सम्मेलन मुजफ्फरनगर के दोषियों को बचाकर संघ परिवार का एजेंडा पूरा कर रही है सपा सरकार- रिहाई मंच एसआइसी प्रमुख मनोज कुमार झा मुजरिमों का नाम निकलवाने के लिए डालते थे दबाव- रिजवान (पीड़ित) हर्ष मंदर, जफर इकबाल, अकरम चौधरी और राजन्या बोस लिखित ‘सिमटती जिंदगी’ रिपोर्ट हुई जारी ...

Read More »